चर्च का ऐलान बिना अंडरगार्मेंट के चर्च में आये औरतें, नहीं तो लाभ नहीं होगा

0
3806

नाइजीरिया के एक चर्च के एक पादरी ने अजीब सा ऐलान करते हुए बयान दिया है की अगर महिलाएं अपने अंडरगार्मेंट पहन कर चर्च में आती हैं तो ईसू मसीह उनके शरीर में प्रवेश नहीं कर पाएंगे. ऐसी महिलाओं को चर्च में आने का कोई फायदा नहीं होगा और ऐसी महिलाओं के लिए धर्म का भी कोई लाभ हासिल नहीं होगा.

दरअसल इस पादरी ने कुछ दिन पहले एक सभा को सम्बोधित करते हुए कहा था की जो औरतें अपने अंडरगार्मेंट पहनकर चर्च में प्रवेश करती हैं. हमें धर्म की खातिर उन्हें चर्च में आने से रोकना चाहिए, जब बयान सोशल मीडिया पर मीडिया की सुर्ख़ियों का हिस्सा बना तो लोगों में जानने की इच्छा हुई की ऐसे दकियानूसी विचार आखिर किस पादरी के हो सकते हैं.

तब पता चला की यह पादरी केन्या का रहने वाला है और इसका नाम रेव नोही है. यह कोई छोटा मोटा पादरी नहीं है बल्कि रेव लॉर्ड्स प्रोफेलर रिडेंपशन चर्च का प्रतिनिधि हैं. इस पादरी ने पुरषो और उसके अंडरगार्मेंटस के बारे में कुछ भी नहीं कहा. यहां तक की महिलाओं की बात करें तो उन्होंने पादरी की बात को मानकर चर्च में बिना अंडरगार्मेंटस पहने जाना शुरू भी कर दिया.

दरअसल धार्मिक सभा में पादरी ने कहा था की, महिलाओं को चर्च में बिलकुल मुक्त होकर आना चाहिए. शरीर को इतना भी नहीं ढकना चाहिए की जीसस को आपके शरीर में प्रवेश करने का स्थान ही न मिले. उन्होंने कहा की मन और तन से जो महिला बिलकुल तनाव मुक्त होकर होकर आती हैं उसी को धर्म का सबसे अधिक लाभ प्राप्त होता हैं.

यहां तक की उन्होंने धमकी भी दी और कहा की जो महिला चर्च की बात को ना मानकर अंडरगार्मेंट पहने हुए पाई गयी उसके साथ बुरा सलूक किया जायेगा. उन्होंने कहा की घर की औरतों को एक दूसरे को चेक करने का मौका देना चाहिए की उन्होंने कहीं अंडरगार्मेंट तो नहीं पहने हुए, उसके बाद ही वह चर्च में आये. इस बयान और धमकी के बाद अब महिलाएं चर्च में बिना अंडरगार्मेंट पहने जाना शुरू कर चुकी हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here