सेना की कार्यवाही में पाकिस्तान के मारे गए 200 से ज्यादा आतंकी

भारत के अच्छे दोस्त अफगानिस्तान ने एक लिस्ट जारी करते हुए बताया की उन्होंने पिछले कुछ हफ़्तों में 70 से ज्यादा तालिबानी कमांडर और 152 पाकिस्तानी लड़ाकों को मार गिराया हैं. यह लिस्ट अफगानिस्तान के इंटीरियर अफेयर्स मंत्रालय द्वारा जारी किया गया हैं और यह पूरी कार्यवाही अफगानिस्तान के हेलमंद और कांधार में की गयी हैं. मंत्रालय द्वारा जारी की गयी रिपोर्ट में खुलासा हुआ है की, 20 कमांडर हेलमंद के अलग-अलग इलाकों में 45-100 लोगों की टीम का नेर्तत्व कर रहे थे और कांधार में करीब 40 तालिबानी कमांडर छुपे हुए थे जिन्हे अफगान सेना ने कुत्ते की मौत मार गिराया. अफगानिस्तान का कहना है की मरने वाले आतंकियों में हमने 152 पाकिस्तानी लड़ाकों की लाशें भी मिली हैं. मंत्रालय के अनुसार 65 शवों को डुरंड लाइन के जरिए भेजा जाएगा और वहीं 35 शवों को फराह, 54 को हेलमंद, 13 को जाबुल और 13 को उरुजगान प्रांत में भेजा जाएगा. आपको बता दें की इस बड़े हमले की पूरी जिम्मेदारी चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जनरल मोहम्मद यासिन जिया के कन्धों पर थी. चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जनरल मोहम्मद यासिन जिया ने ही इस ऑपरेशन का नेर्तत्व किया और उसे अंजाम तक पहुंचाया. मंत्रालय ने मीडिया में यह बयान देते भी दिया की तालिबान द्वारा हुए हमलों में पिछले 25 दिनों में कम से कम 134 आम लोगों की मौत हुई है और 289 घायल हुए हैं. मंत्रालय द्वारा किये गए सभी दावों को तालिबान ने नाकार दिया हैं, वहीं चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जनरल मोहम्मद यासिन जिया का मानना है की यह तो महज़ एक शुरुआत हैं, लड़ाई अभी लंबी हैं. आपको बता दें की पिछले दिनों अमेरिका की अखबारों में एक खबर छपी थी की पाकिस्तान के लगभग 6000 से 6500 आतंकी इस वक़्त अफगानिस्तान में सक्रिय हैं और जल्द बड़ा हमला या फिर दंगा करने के लिए तैयार हैं. इसी रिपोर्ट के आधार पर अफगान सेना और सरकार दोनों सक्रिय हुए और आतंक वाले इलाकों में छानबीन शुरू करते हुए, चुन चुन कर ढूंढ़ना और मारना शुरू किया.
 

सेना की कार्यवाही में पाकिस्तान के मारे गए 200 से ज्यादा आतंकी

भारत के अच्छे दोस्त अफगानिस्तान ने एक लिस्ट जारी करते हुए बताया की उन्होंने पिछले कुछ हफ़्तों में 70 से ज्यादा तालिबानी कमांडर और 152 पाकिस्तानी लड़ाकों को मार गिराया हैं. यह लिस्ट अफगानिस्तान के इंटीरियर अफेयर्स मंत्रालय द्वारा जारी किया गया हैं और यह पूरी कार्यवाही अफगानिस्तान के हेलमंद और कांधार में की गयी हैं. सेना की कार्यवाही में पाकिस्तान के मारे गए 200 से ज्यादा आतंकी मंत्रालय द्वारा जारी की गयी रिपोर्ट में खुलासा हुआ है की, 20 कमांडर हेलमंद के अलग-अलग इलाकों में 45-100 लोगों की टीम का नेर्तत्व कर रहे थे और कांधार में करीब 40 तालिबानी कमांडर छुपे हुए थे जिन्हे अफगान सेना ने कुत्ते की मौत मार गिराया. अफगानिस्तान का कहना है की मरने वाले आतंकियों में हमने 152 पाकिस्तानी लड़ाकों की लाशें भी मिली हैं. मंत्रालय के अनुसार 65 शवों को डुरंड लाइन के जरिए भेजा जाएगा और वहीं 35 शवों को फराह, 54 को हेलमंद, 13 को जाबुल और 13 को उरुजगान प्रांत में भेजा जाएगा. आपको बता दें की इस बड़े हमले की पूरी जिम्मेदारी चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जनरल मोहम्मद यासिन जिया के कन्धों पर थी. चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जनरल मोहम्मद यासिन जिया ने ही इस ऑपरेशन का नेर्तत्व किया और उसे अंजाम तक पहुंचाया. मंत्रालय ने मीडिया में यह बयान देते भी दिया की तालिबान द्वारा हुए हमलों में पिछले 25 दिनों में कम से कम 134 आम लोगों की मौत हुई है और 289 घायल हुए हैं. मंत्रालय द्वारा किये गए सभी दावों को तालिबान ने नाकार दिया हैं, वहीं चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जनरल मोहम्मद यासिन जिया का मानना है की यह तो महज़ एक शुरुआत हैं, लड़ाई अभी लंबी हैं. आपको बता दें की पिछले दिनों अमेरिका की अखबारों में एक खबर छपी थी की पाकिस्तान के लगभग 6000 से 6500 आतंकी इस वक़्त अफगानिस्तान में सक्रिय हैं और जल्द बड़ा हमला या फिर दंगा करने के लिए तैयार हैं. सेना की कार्यवाही में पाकिस्तान के मारे गए 200 से ज्यादा आतंकी इसी रिपोर्ट के आधार पर अफगान सेना और सरकार दोनों सक्रिय हुए और आतंक वाले इलाकों में छानबीन शुरू करते हुए, चुन चुन कर ढूंढ़ना और मारना शुरू किया.