रावण द्वारा हरण किया जाना मेरा सौभाग्य था: सीता माँ पर TMC सांसद की टिप्पणी

भारत के नेता अपनी राजनीती में इतने गिर चुके हैं की, वह मुस्लिम समुदाय के लोगों को खुश करने के लिए अपने ही धर्म के आराध्य भगवान् राम और माँ सीता के प्रति अपमानजनक टिप्पणी करने से भी परहेज़ नहीं करते. रामायण जैसे ग्रंथों को कभी हाथ भी न लगाने वाले यह नेता ज्ञान ऐसा देते हैं की विश्व में इनसे बड़ा ज्ञानी ही कोई न हों. अब खबर है की तृणमूल कांग्रेस के सांसद कल्याण बनर्जी ने माँ सीता के लेकर अपमानजनक भाषा में पश्चिम बंगाल में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बयान दिया हैं की, "सीता राम के पास जाकर बोलीं कि मेरा सौभाग्य था कि रावण ने मेरा हरण किया. अगर तुम्हारे भगवाधारी चेलों ने मेरा हरण किया होता तो मेरा हाल यूपी के हाथरस जैसा होता." यह बयान सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ साथ ही भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से तुष्टिकरण की राजनीती पर सवाल करते हुए पूछा की, "क्या हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाकर ही ममता दीदी की तुष्टिकरण की राजनीति करना चाहती हैं?" सबसे पहले इस वीडियो को भाजपा नेता और मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय ने अपने ट्विटर पर पोस्ट किया था. बीजेपी के चुनाव प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कल्याण बनर्जी पर इस अप्पतिजनक भाषा के इस्तेमाल पर पलटवार करते हुए कहा की, "ये सब बकवास और मूर्खतापूर्ण टिप्पणी है. मैं इस पर प्रतिक्रिया भी नहीं दूँगा क्योंकि इस तरह की बकवास, फालतू लोग ही करते हैं. मैं बस यही सलाह देना चाहूँगा कि उन्हें मनोचिकित्सक के पास जाना चाहिए." वैसे आपको बता दें की यह पहली बार नहीं है जब TMC सांसद कल्याण बनर्जी ने ऐसा बयान दिया हो. दरअसल TMC नेता कल्याण बनर्जी ने जुलाई में अपने संसदीय क्षेत्र बांकुड़ा में भारत की वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को लेकर कहा था की, "काली नागिन (विषैला साँप) के काटने से जिस तरह लोगों की मौत होती है उसी तरह निर्मला सीतारमण के कारण लोग मर रहे हैं. उसने अर्थव्यवस्था को नष्ट कर दिया है. उसे शर्म आनी चाहिए और अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. वह सबसे खराब वित्त मंत्री है." TMC MP Kalyan Banerjee, used derogatory language against Sita-mata. Claims that she told Bhagwaan Ram, “thank God, I was abducted by Ravan and not by your chelas or else my fate would have been same as Hathras victim!” Is trampling on Hindu sentiment Pishi’s idea of appeasement? pic.twitter.com/rCff9O8iYC — Amit Malviya (@amitmalviya) January 9, 2021 इसी दौरान उन्होंने बिना किसी आंकड़े और ठोस सबूत के जैसा की पहले बताया ऐसे नेताओं को तर्क और तथ्य दोनों ही नहीं पता होते बस ज्ञान ऐसे देंगे की विश्व में इनसे बड़ा कोई ज्ञानी नहीं हैं. इसी के चलते उन्होंने नरेंद्र मोदी के खिलाफ कहा था की, "यह नरेंद्र मोदी 2019 से पहले यहाँ आए थे. उन्होंने वादा किया था कि बेहतर भारत बनाएँगे. उन्होंने अपना वादा निभाया? जीडीपी ग्रोथ गिरकर 1 फीसदी हो गई है. नरेंद्र मोदी और उनकी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की जय हो."
 

रावण द्वारा हरण किया जाना मेरा सौभाग्य था: सीता माँ पर TMC सांसद की टिप्पणी

भारत के नेता अपनी राजनीती में इतने गिर चुके हैं की, वह मुस्लिम समुदाय के लोगों को खुश करने के लिए अपने ही धर्म के आराध्य भगवान् राम और माँ सीता के प्रति अपमानजनक टिप्पणी करने से भी परहेज़ नहीं करते. रामायण जैसे ग्रंथों को कभी हाथ भी न लगाने वाले यह नेता ज्ञान ऐसा देते हैं की विश्व में इनसे बड़ा ज्ञानी ही कोई न हों. रावण द्वारा हरण किया जाना मेरा सौभाग्य था: सीता माँ पर TMC सांसद की टिप्पणी अब खबर है की तृणमूल कांग्रेस के सांसद कल्याण बनर्जी ने माँ सीता के लेकर अपमानजनक भाषा में पश्चिम बंगाल में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए बयान दिया हैं की, "सीता राम के पास जाकर बोलीं कि मेरा सौभाग्य था कि रावण ने मेरा हरण किया. अगर तुम्हारे भगवाधारी चेलों ने मेरा हरण किया होता तो मेरा हाल यूपी के हाथरस जैसा होता." यह बयान सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ साथ ही भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से तुष्टिकरण की राजनीती पर सवाल करते हुए पूछा की, "क्या हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाकर ही ममता दीदी की तुष्टिकरण की राजनीति करना चाहती हैं?" सबसे पहले इस वीडियो को भाजपा नेता और मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय ने अपने ट्विटर पर पोस्ट किया था. बीजेपी के चुनाव प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कल्याण बनर्जी पर इस अप्पतिजनक भाषा के इस्तेमाल पर पलटवार करते हुए कहा की, "ये सब बकवास और मूर्खतापूर्ण टिप्पणी है. मैं इस पर प्रतिक्रिया भी नहीं दूँगा क्योंकि इस तरह की बकवास, फालतू लोग ही करते हैं. मैं बस यही सलाह देना चाहूँगा कि उन्हें मनोचिकित्सक के पास जाना चाहिए." वैसे आपको बता दें की यह पहली बार नहीं है जब TMC सांसद कल्याण बनर्जी ने ऐसा बयान दिया हो. दरअसल TMC नेता कल्याण बनर्जी ने जुलाई में अपने संसदीय क्षेत्र बांकुड़ा में भारत की वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को लेकर कहा था की, "काली नागिन (विषैला साँप) के काटने से जिस तरह लोगों की मौत होती है उसी तरह निर्मला सीतारमण के कारण लोग मर रहे हैं. उसने अर्थव्यवस्था को नष्ट कर दिया है. उसे शर्म आनी चाहिए और अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. वह सबसे खराब वित्त मंत्री है." इसी दौरान उन्होंने बिना किसी आंकड़े और ठोस सबूत के जैसा की पहले बताया ऐसे नेताओं को तर्क और तथ्य दोनों ही नहीं पता होते बस ज्ञान ऐसे देंगे की विश्व में इनसे बड़ा कोई ज्ञानी नहीं हैं. इसी के चलते उन्होंने नरेंद्र मोदी के खिलाफ कहा था की, "यह नरेंद्र मोदी 2019 से पहले यहाँ आए थे. उन्होंने वादा किया था कि बेहतर भारत बनाएँगे. उन्होंने अपना वादा निभाया? जीडीपी ग्रोथ गिरकर 1 फीसदी हो गई है. नरेंद्र मोदी और उनकी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की जय हो."