‘मोदी मर जा तू’: वामपंथी किसान संगठन की महिला प्रदर्शनकारियों की शर्मनाक हरकत

वामपंथी महिलाओं का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा हैं. इस वीडियो में महिलाएं इस प्रकार के रो रही हैं, जैसे उनका पति मर गया हो, लेकिन गौरतलब है की यह अपने पति के मरने के चलते नहीं बल्कि मोदी की मौत की दुवायें मांगती हुई रो रही हैं. इससे पहले खालिस्तानियों द्वारा भारत विरोधी नारे लगाए थे, वामपंथी दंगाइयों की तस्वीरों को लेकर उन्हें आज़ाद करने की मांग उठाई गयी थी, हिन्दू महिलाओं के अपशब्दों का प्रयोग किया गया था ओर तो ओर विदेशों में खुले तौर पर खालिस्तान की मांग उठाते हुए रैलियां निकाली जा रही हैं. जिन वामपंथी महिलाओं ने अब यह शर्मनाक वीडियो निकाला हैं उसमे वह रोने की एक्टिंग करते हुए कह रही है की, "मोदी मर जा तू, शिक्षा बेच के खा गया रे मोदी, मर जा तू. रेल बेचकर खा गया रे मोदी, मर जा तू. देश बेच के खा गया रे मोदी, मर जा तू. किसानों को धोखा दे गए रे मोदी, मर जा तू." और सामने जमीन पर बैठी हुई महिलाएं उस औरत के साथ, "हाय-हाय मोदी मर जा तू" दोहरा रही थी. बोलने के अंदाज़ से यह तो पक्का है की यह महिलाएं पंजाब की ही हैं और उन्होंने अखिल भारतीय किसान सभा (AIKS) और कम्युनिस्ट पार्टी के हथौड़ा निशान वाले झंडे को उठाया हुआ हैं. अखिल भारतीय किसान सभा वामपंथी पार्टी से जुड़ा हुआ किसान संघठन हैं. लेकिन इसके भी दो गुट हैं जिसमें एक है भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी और दूसरा है भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी). इस शर्मनाक वीडियो को लेकर दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कुलजीत सिंह चहल ने यह कहते हुए ट्वीट किया की, "यह बहुत ही शर्मनाक वीडियो हैं. ये मेरे देश के किसान नहीं हो सकते. ऐसा करने के लिए इन्हें स्पॉन्सर कौन कर रहा है?" इससे पहले 'हमने इंदिरा को ठोका, मोदी क्या चीज़ हैं', 'टक्के-टक्के में बिकती थी इनकी औरतें', 'इमरान तो हमारा यार है, दुश्मन तो हमारा दिल्ली में बैठा हैं' जैसी वीडियो वायरल हुई थी.
 

‘मोदी मर जा तू’: वामपंथी किसान संगठन की महिला प्रदर्शनकारियों की शर्मनाक हरकत

वामपंथी महिलाओं का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा हैं. इस वीडियो में महिलाएं इस प्रकार के रो रही हैं, जैसे उनका पति मर गया हो, लेकिन गौरतलब है की यह अपने पति के मरने के चलते नहीं बल्कि मोदी की मौत की दुवायें मांगती हुई रो रही हैं. ‘मोदी मर जा तू’: वामपंथी किसान संगठन की महिला प्रदर्शनकारियों की शर्मनाक हरकत इससे पहले खालिस्तानियों द्वारा भारत विरोधी नारे लगाए थे, वामपंथी दंगाइयों की तस्वीरों को लेकर उन्हें आज़ाद करने की मांग उठाई गयी थी, हिन्दू महिलाओं के अपशब्दों का प्रयोग किया गया था ओर तो ओर विदेशों में खुले तौर पर खालिस्तान की मांग उठाते हुए रैलियां निकाली जा रही हैं. जिन वामपंथी महिलाओं ने अब यह शर्मनाक वीडियो निकाला हैं उसमे वह रोने की एक्टिंग करते हुए कह रही है की, "मोदी मर जा तू, शिक्षा बेच के खा गया रे मोदी, मर जा तू. रेल बेचकर खा गया रे मोदी, मर जा तू. देश बेच के खा गया रे मोदी, मर जा तू. किसानों को धोखा दे गए रे मोदी, मर जा तू." और सामने जमीन पर बैठी हुई महिलाएं उस औरत के साथ, "हाय-हाय मोदी मर जा तू" दोहरा रही थी. बोलने के अंदाज़ से यह तो पक्का है की यह महिलाएं पंजाब की ही हैं और उन्होंने अखिल भारतीय किसान सभा (AIKS) और कम्युनिस्ट पार्टी के हथौड़ा निशान वाले झंडे को उठाया हुआ हैं. अखिल भारतीय किसान सभा वामपंथी पार्टी से जुड़ा हुआ किसान संघठन हैं. लेकिन इसके भी दो गुट हैं जिसमें एक है भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी और दूसरा है भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी). इस शर्मनाक वीडियो को लेकर दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कुलजीत सिंह चहल ने यह कहते हुए ट्वीट किया की, "यह बहुत ही शर्मनाक वीडियो हैं. ये मेरे देश के किसान नहीं हो सकते. ऐसा करने के लिए इन्हें स्पॉन्सर कौन कर रहा है?" इससे पहले 'हमने इंदिरा को ठोका, मोदी क्या चीज़ हैं', 'टक्के-टक्के में बिकती थी इनकी औरतें', 'इमरान तो हमारा यार है, दुश्मन तो हमारा दिल्ली में बैठा हैं' जैसी वीडियो वायरल हुई थी.