ग़ाज़ियाबाद: बुजुर्ग के अंतिम संस्कार में शामिल होने आये लोगों में से 19 की मृत्यु

दिल्ली के ही पास ग़ाज़ियाबाद में तेज़ बारिश के चलते एक बड़ा हादसा हो गया. श्मशान घाट की छत के निचे खड़े 19 लोगों की मौत छत के टूट कर गिर जाने से हो गयी. इस घटना की जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन के अलावा एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर रेस्क्यू के लिए पहुंची. गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने 19 लोगों की मृत्यु होने की खबर की पुष्टि की है और साथ ही उन्होंने बताया कई लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं. गंभीर रूप से घायल लोगों को जिला हॉस्पिटल में भर्ती करवा दिया गया हैं. यह खबर जैसे ही मीडिया में पहुंची तो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने मंडल आयुक्त मेरठ और आईजी रेंज मेरठ से घटना की पूरी रिपोर्ट मंगवाई हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीडिया से बातचीत करते हुए इस घटना को लेकर बयान दिया हैं की, "घटना दुखद है मेरी संवेदना शोक संतप्त परिजनों के साथ है. इसके अलावा मंडल आयुक्त मेरठ और आईजी रेंज मेरठ को मौके पर जाकर घटना की रिपोर्ट देने का आदेश दिया है. ज़िलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गाजियाबाद मौके पर हैं और राहत कार्य कर रहे हैं. हादसे में घायल लोगों का समुचित उपचार सुनिश्चित कराया जाएगा. इस हादसे में मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी." मुख्यमंत्री के साथ साथ उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी इस हादसे में मारे गए लोगों के लिए शोक जताते हुए, दिवंगत आत्माओं की शांति की कामना की है और शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट भी की. इस घटना के बाद अनीता सी मेश्राम (डिविजनल कमिश्नर, मेरठ) ने भी मीडिया को बयान देते हुए कहा है की, "मुरादनगर में शेड गिरने से इसमें फंसे 38 लोगों को निकाला गया है. बाकी लोगों का इलाज़ अस्पताल में चल रहा है. जांच शुरू कर दी है. दोषियों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी." यह पूरी घटना उस समय हुई जब मुरादनगर थाना क्षेत्र के ही डिफेंस कॉलोनी में रहने वाले एक बुजुर्ग व्यक्ति के देहांत के बाद लोग अंतिम संस्कार के लिए श्मशान पहुंचे थे. अंतिम संस्कार की रस्में अभी चल रही थी तो कुछ लोग श्मशान घाट में एक शेड के निचे खड़े हो गए, कुछ देर बार लेंटर गिर गया और भरी संख्या में लोग उसकी चपेट में आ गए.
 

ग़ाज़ियाबाद: बुजुर्ग के अंतिम संस्कार में शामिल होने आये लोगों में से 19 की मृत्यु

दिल्ली के ही पास ग़ाज़ियाबाद में तेज़ बारिश के चलते एक बड़ा हादसा हो गया. श्मशान घाट की छत के निचे खड़े 19 लोगों की मौत छत के टूट कर गिर जाने से हो गयी. इस घटना की जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन के अलावा एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर रेस्क्यू के लिए पहुंची. ग़ाज़ियाबाद: बुजुर्ग के अंतिम संस्कार में शामिल होने आये लोगों में से 19 की मृत्यु गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने 19 लोगों की मृत्यु होने की खबर की पुष्टि की है और साथ ही उन्होंने बताया कई लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं. गंभीर रूप से घायल लोगों को जिला हॉस्पिटल में भर्ती करवा दिया गया हैं. यह खबर जैसे ही मीडिया में पहुंची तो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने मंडल आयुक्त मेरठ और आईजी रेंज मेरठ से घटना की पूरी रिपोर्ट मंगवाई हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीडिया से बातचीत करते हुए इस घटना को लेकर बयान दिया हैं की, "घटना दुखद है मेरी संवेदना शोक संतप्त परिजनों के साथ है. इसके अलावा मंडल आयुक्त मेरठ और आईजी रेंज मेरठ को मौके पर जाकर घटना की रिपोर्ट देने का आदेश दिया है. ज़िलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गाजियाबाद मौके पर हैं और राहत कार्य कर रहे हैं. हादसे में घायल लोगों का समुचित उपचार सुनिश्चित कराया जाएगा. इस हादसे में मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी." मुख्यमंत्री के साथ साथ उत्तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी इस हादसे में मारे गए लोगों के लिए शोक जताते हुए, दिवंगत आत्माओं की शांति की कामना की है और शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट भी की. इस घटना के बाद अनीता सी मेश्राम (डिविजनल कमिश्नर, मेरठ) ने भी मीडिया को बयान देते हुए कहा है की, "मुरादनगर में शेड गिरने से इसमें फंसे 38 लोगों को निकाला गया है. बाकी लोगों का इलाज़ अस्पताल में चल रहा है. जांच शुरू कर दी है. दोषियों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी." ग़ाज़ियाबाद: बुजुर्ग के अंतिम संस्कार में शामिल होने आये लोगों में से 19 की मृत्यु यह पूरी घटना उस समय हुई जब मुरादनगर थाना क्षेत्र के ही डिफेंस कॉलोनी में रहने वाले एक बुजुर्ग व्यक्ति के देहांत के बाद लोग अंतिम संस्कार के लिए श्मशान पहुंचे थे. अंतिम संस्कार की रस्में अभी चल रही थी तो कुछ लोग श्मशान घाट में एक शेड के निचे खड़े हो गए, कुछ देर बार लेंटर गिर गया और भरी संख्या में लोग उसकी चपेट में आ गए.