तेजस्वी यादव की पुरानी तस्वीर को खोजकर JDU प्रवक्ता ने किया राजनीतिक धमाका

बिहार में शराबबंदी को लेकर राजद और जदयू दोनों आमने सामने हैं. शराबबंदी को लेकर बिहार सरकार ने बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की एक पुरानी तस्वीर के साथ राजनीतिक धमाका कर दिया हैं. दरअसल बिहार में Budget सत्र चल रहा हैं और बिहार की विपक्षी पार्टी होने के चलते तेजस्वी यादव शराब माफिया को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश में हैं. ऐसे में बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर ही सबसे बड़ा शराब माफिया होने का बेबुनियाद आरोप लगा दिया. उधर जनता दल यूनाइटेड के प्रवक्ता ने तेजस्वी यादव की एक पुरानी तस्वीर को ढूंढ निकाला और मीडिया में उसका उजागर करते हुए ऐसे सवाल दागे की RJD के प्रवक्ता जवाब देने से कतराते हुए नज़र आए. आपको बता दें की इस पुरानी तस्वीर को उजागर जदयू के प्रवक्ता निखिल मंडल ने किया हैं इस तस्वीर में तेजस्वी यादव हाथ में शराब की बोतल लेकर खड़े हुए नज़र आ रहें हैं और पार्टी में मजूद लगभग सभी के हाथ में शराब की बोतलें हैं. इसी वजह से निखिल मंडल ने अपने ट्विटर पर लिखा हैं की, "बचपन से शराब का सेवन करने वाले को हर आदमी शराबी दिखना स्वभाविक है." निखिल मंडल ने तेजस्वी यादव के उस बयान पर पलटवार किया जिसमें उन्होंने कहा था की बिहार में शराब की होम डिलीवरी होती हैं. निखिल मंडल ने सवाल पूछते हुए कहा की, "वे अक्सर कहते हैं बिहार में घर-घर शराब की होम डिलिवरी होती है. क्या होम डिलिवरी सेवा का लाभ तेजस्वी का घर भी उठा रहा है. शराबबंदी के बाद भी वह आदत छूटी या नहीं?" राजद समर्थक जहाँ तेजस्वी यादव के समर्थन में निखिल मंडल को जवाब देते नज़र आए वहीं हमें राजद के नेताओं और प्रवक्ताओं की छुपी भी साफ़ देखने को मिली. क्योंकि निखिल मंडल का सवाल उस पुरानी तस्वीर को लेकर नहीं था बल्कि उनका सवाल यह था की क्या अब आपने शराब का सेवन करना छोड़ दिया हैं? अगर नहीं छोड़ा तो क्या भी बिहार में शराब की होम डिलीवरी का लाभ उठा रहें हैं?
 

तेजस्वी यादव की पुरानी तस्वीर को खोजकर JDU प्रवक्ता ने किया राजनीतिक धमाका

बिहार में शराबबंदी को लेकर राजद और जदयू दोनों आमने सामने हैं. शराबबंदी को लेकर बिहार सरकार ने बिहार के पूर्व उप-मुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव की एक पुरानी तस्वीर के साथ राजनीतिक धमाका कर दिया हैं. दरअसल बिहार में Budget सत्र चल रहा हैं और बिहार की विपक्षी पार्टी होने के चलते तेजस्वी यादव शराब माफिया को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश में हैं. तेजस्वी यादव की पुरानी तस्वीर को खोजकर JDU प्रवक्ता ने किया राजनीतिक धमाका ऐसे में बिहार के पूर्व उप-मुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर ही सबसे बड़ा शराब माफिया होने का बेबुनियाद आरोप लगा दिया. उधर जनता दल यूनाइटेड के प्रवक्ता ने तेजस्वी यादव की एक पुरानी तस्वीर को ढूंढ निकाला और मीडिया में उसका उजागर करते हुए ऐसे सवाल दागे की RJD के प्रवक्ता जवाब देने से कतराते हुए नज़र आए. आपको बता दें की इस पुरानी तस्वीर को उजागर जदयू के प्रवक्‍ता निखिल मंडल ने किया हैं इस तस्वीर में तेजस्वी यादव हाथ में शराब की बोतल लेकर खड़े हुए नज़र आ रहें हैं और पार्टी में मजूद लगभग सभी के हाथ में शराब की बोतलें हैं. इसी वजह से निखिल मंडल ने अपने ट्विटर पर लिखा हैं की, "बचपन से शराब का सेवन करने वाले को हर आदमी शराबी दिखना स्‍वभाविक है." निखिल मंडल ने तेजस्वी यादव के उस बयान पर पलटवार किया जिसमें उन्होंने कहा था की बिहार में शराब की होम डिलीवरी होती हैं. निखिल मंडल ने सवाल पूछते हुए कहा की, "वे अक्‍सर कहते हैं बिहार में घर-घर शराब की होम डिलिवरी होती है. क्‍या होम डिलिवरी सेवा का लाभ तेजस्‍वी का घर भी उठा रहा है. शराबबंदी के बाद भी वह आदत छूटी या नहीं?" तेजस्वी यादव की पुरानी तस्वीर को खोजकर JDU प्रवक्ता ने किया राजनीतिक धमाका राजद समर्थक जहाँ तेजस्‍वी यादव के समर्थन में निखिल मंडल को जवाब देते नज़र आए वहीं हमें राजद के नेताओं और प्रवक्ताओं की छुपी भी साफ़ देखने को मिली. क्योंकि निखिल मंडल का सवाल उस पुरानी तस्वीर को लेकर नहीं था बल्कि उनका सवाल यह था की क्या अब आपने शराब का सेवन करना छोड़ दिया हैं? अगर नहीं छोड़ा तो क्या भी बिहार में शराब की होम डिलीवरी का लाभ उठा रहें हैं?