बाप गया जेल तो कलयुगी माँ ने भी छोड़ा साथ, ठंड में गुजार रहा रात

कहते हैं की, माँ बाप के कर्मों की सज़ा कई बार उनके बच्चों को भी भुगतनी पड़ती हैं. यह कहावत उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के रहने वाले 10 साल के अंकित पर पूरी तरह सच साबित होती दिखाई दे रही हैं. दरअसल अंकित के पिता कुख्यात अपराधियों में से एक थे और अब पुलिस ने उन्हें जेल में बंद कर रखा हैं. अंकित की कलयुगी माँ उसके पिता के जेल जाने के बाद अंकित को छोड़कर भाग गयी हैं. ऐसे में अंकित अब ठंड के मौसम में कुत्तों के साथ सोने पर मजबूर हो चूका हैं. अंकित ने इस कुत्ते का नाम 'डैनी' रखा हैं. मीडिया को बताते हुए अंकित ने कहा की 'डैनी' दिनभर मेरे साथ रहता हैं. मैं जो भी काम मिलता है ख़ुशी ख़ुशी कर लेता हूँ और मिले हुए पैसों से अपने लिए खाना खरीदता हु और 'डैनी' को भी खिलाता हूँ. यह पूरा मामला तब चर्चा में आया जब एक व्यक्ति ठंड के मौसम में गरीबों को कंबल बाँट रहा था. उस समय उसका ध्यान छोटे बच्चे की तरफ गया जो कुत्ते के साथ सो रहा था, बच्चा देखने में ही पता चल रहा था की यह बेघर बच्चों में से नहीं हैं. ऐसे में व्यक्ति ने उस सोते हुए बच्चे की तस्वीर सोशल मीडिया पर डाल दी. सोशल मीडिया पर जब तस्वीर वायरल हुई तो एसएसपी अभिषेक यादव ने बच्चे का पता लगाने का प्रयास किया. उनका यह प्रयास सफल हुआ और बच्चे का पता लगा लिया गया. अंकित ने बताया की वह एक दूकान से गुब्बारे खरीदता है और उसे फुलाकर बेच देता हैं. इसके बाद वह एक चाय की दूकान पर भी काम करके अपने और 'डैनी' के खाने का इंतजाम कर लेता हैं. एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया की, "जब तक अंकित दुकान में काम करता था. कुत्ता एक कोने में बैठा रहता था. अंकित कभी भी मुफ्त में कुछ नहीं लेता, अपने कुत्ते के लिए दूध भी वो किसी से नहीं मांगता." उन्होंने कहा हम इसके पिता का पता लगा रहे हैं जो राज्य की ही किसी जेल में बंद हैं. उसके बाद इसे इसके किसी रिश्तेदार को सौंप दिया जाएगा. तब तक अंकित पुलिस की जिम्मेदारी हैं और हम इसकी देखरेख करेंगे.
 

बाप गया जेल तो कलयुगी माँ ने भी छोड़ा साथ, ठंड में गुजार रहा रात

कहते हैं की, माँ बाप के कर्मों की सज़ा कई बार उनके बच्चों को भी भुगतनी पड़ती हैं. यह कहावत उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के रहने वाले 10 साल के अंकित पर पूरी तरह सच साबित होती दिखाई दे रही हैं. दरअसल अंकित के पिता कुख्यात अपराधियों में से एक थे और अब पुलिस ने उन्हें जेल में बंद कर रखा हैं. बाप गया जेल तो कलयुगी माँ ने भी छोड़ा साथ, ठंड में गुजार रहा रात अंकित की कलयुगी माँ उसके पिता के जेल जाने के बाद अंकित को छोड़कर भाग गयी हैं. ऐसे में अंकित अब ठंड के मौसम में कुत्तों के साथ सोने पर मजबूर हो चूका हैं. अंकित ने इस कुत्ते का नाम 'डैनी' रखा हैं. मीडिया को बताते हुए अंकित ने कहा की 'डैनी' दिनभर मेरे साथ रहता हैं. मैं जो भी काम मिलता है ख़ुशी ख़ुशी कर लेता हूँ और मिले हुए पैसों से अपने लिए खाना खरीदता हु और 'डैनी' को भी खिलाता हूँ. यह पूरा मामला तब चर्चा में आया जब एक व्यक्ति ठंड के मौसम में गरीबों को कंबल बाँट रहा था. उस समय उसका ध्यान छोटे बच्चे की तरफ गया जो कुत्ते के साथ सो रहा था, बच्चा देखने में ही पता चल रहा था की यह बेघर बच्चों में से नहीं हैं. ऐसे में व्यक्ति ने उस सोते हुए बच्चे की तस्वीर सोशल मीडिया पर डाल दी. सोशल मीडिया पर जब तस्वीर वायरल हुई तो एसएसपी अभिषेक यादव ने बच्चे का पता लगाने का प्रयास किया. उनका यह प्रयास सफल हुआ और बच्चे का पता लगा लिया गया. अंकित ने बताया की वह एक दूकान से गुब्बारे खरीदता है और उसे फुलाकर बेच देता हैं. इसके बाद वह एक चाय की दूकान पर भी काम करके अपने और 'डैनी' के खाने का इंतजाम कर लेता हैं. बाप गया जेल तो कलयुगी माँ ने भी छोड़ा साथ, ठंड में गुजार रहा रात एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया की, "जब तक अंकित दुकान में काम करता था. कुत्ता एक कोने में बैठा रहता था. अंकित कभी भी मुफ्त में कुछ नहीं लेता, अपने कुत्ते के लिए दूध भी वो किसी से नहीं मांगता." उन्होंने कहा हम इसके पिता का पता लगा रहे हैं जो राज्य की ही किसी जेल में बंद हैं. उसके बाद इसे इसके किसी रिश्तेदार को सौंप दिया जाएगा. तब तक अंकित पुलिस की जिम्मेदारी हैं और हम इसकी देखरेख करेंगे.