हिन्दू धर्म का अपमान किया है तो अब कीमत तो चुकानी पड़ेगी: योगी सरकार

तांडव नाम की वेब सीरीज का विवाद अभी कम नहीं हुआ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री इस वेब सीरीज से बेहद नाराज़ बताये जा रहे हैं यह कारण हैं की अब इस वेब सीरीज के चलते इसके निर्माता, निर्देशक और लेखक के साथ अमेजन प्राइम वीडियो के संचालकों पर भी पुलिस अपनी कानूनी पकड़ मजबूत कर रही हैं. इस वेब सीरीज में मनोरंजन के नाम पर मानो जैसे एक अजेंडा सेट किया गया हो जिसमें आपको हिन्दू धर्म और देवी, देवताओं का अपमान और आज़ादी गैंग का गुणगान देखने को मिलेगा. सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (Ministry of Information and Broadcasting) के साथ साथ भाजपा के कई बड़े नेताओं और प्रवक्ताओं ने इस वेब सीरीज की कड़ी निंदा की हैं. यहाँ तक की उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाजवादी पार्टी (Bahujan Samajwadi Party) की सुप्रीमो मायावती ने भी इस वेब सीरीज को लेकर कड़ी निंदा की है. उन्होंने कहा है की, इस वेब सीरीज में वो प्रत्येक हिस्सा काट देना चाहिए जिससे जनभावनाएं आहत हो रही हैं. यही नहीं मामला इतना बिगड़ चूका हैं की शाहजहांपुर जिले के कटरा थाना में भाजपा विधायक वीर विक्रम सिंह (Veer Vikram Singh) ने तो तांडव वेब सीरीज के निर्देशक अली अब्बास जफर (Ali Abbas Zafar) तथा कलाकार सैफ अली खान (Saif Ali Khan) और जीशान अयूब (Zeeshan Ayub) के खिलाफ FIR दर्ज़ करवा दी हैं. पुलिस अधीक्षक एस आनंद ने मीडिया से बातचीत करते हए बताया है की हमने तांडव (Tandav) वेब सीरीज के निर्देशक अली अब्बास जफर तथा कलाकार सैफ अली खान और जीशान अयूब के खिलाफ कुल आठ धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज़ की हैं. हम मामले की जांच गंभीरता से कर रहें हैं और पुलिस की एक टुकड़ी हमने पूछताछ के लिए रवाना भी कर दी हैं. इसी सन्दर्भ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी (Shalabh Mani Tripathi) ने भी ट्वीट करते हुए लिखा है की, "यूपी पुलिस मुंबई निकल चुकी है, वो भी गाड़ी से, प्राथमिकी में मजबूत धाराएं लगी हैं, तैयार रहना, धार्मिक भावनाओं को आहत करने की कीमत तो चुकानी ही पड़ेगी. श्री उद्धव ठाकरे जी, उम्मीद है आप इनके बचाव में ना आएंगे." [embed]https://twitter.com/shalabhmani/status/1351105427463942147[/embed] उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा की, "जन भावनाओं के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं. घटिया वेब सीरीज की आड़ में नफरत फैलाने वाली वेब सीरीज तांडव की पूरी टीम के खिलाफ योगी जी के उत्तर प्रदेश में गंभीर धाराओं में मामला दर्ज, जल्द गिरफ्तारी की तैयारी." ऐसे में देखना यह होगा की आगे चलकर यह मुद्दा क्या मोड़ लेता हैं, क्योंकि आज से पहले ऐसे मामलों में विवाद सोशल मीडिया से कभी आगे नहीं जा पाता था.
 

हिन्दू धर्म का अपमान किया है तो अब कीमत तो चुकानी पड़ेगी: योगी सरकार

तांडव नाम की वेब सीरीज का विवाद अभी कम नहीं हुआ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री इस वेब सीरीज से बेहद नाराज़ बताये जा रहे हैं यह कारण हैं की अब इस वेब सीरीज के चलते इसके निर्माता, निर्देशक और लेखक के साथ अमेजन प्राइम वीडियो के संचालकों पर भी पुलिस अपनी कानूनी पकड़ मजबूत कर रही हैं. हिन्दू धर्म का अपमान किया है तो अब कीमत तो चुकानी पड़ेगी: योगी सरकार इस वेब सीरीज में मनोरंजन के नाम पर मानो जैसे एक अजेंडा सेट किया गया हो जिसमें आपको हिन्‍दू धर्म और देवी, देवताओं का अपमान और आज़ादी गैंग का गुणगान देखने को मिलेगा. सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (Ministry of Information and Broadcasting) के साथ साथ भाजपा के कई बड़े नेताओं और प्रवक्ताओं ने इस वेब सीरीज की कड़ी निंदा की हैं. यहाँ तक की उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाजवादी पार्टी (Bahujan Samajwadi Party) की सुप्रीमो मायावती ने भी इस वेब सीरीज को लेकर कड़ी निंदा की है. उन्होंने कहा है की, इस वेब सीरीज में वो प्रत्येक हिस्सा काट देना चाहिए जिससे जनभावनाएं आहत हो रही हैं. यही नहीं मामला इतना बिगड़ चूका हैं की शाहजहांपुर जिले के कटरा थाना में भाजपा विधायक वीर विक्रम सिंह (Veer Vikram Singh) ने तो तांडव वेब सीरीज के निर्देशक अली अब्बास जफर (Ali Abbas Zafar) तथा कलाकार सैफ अली खान (Saif Ali Khan) और जीशान अयूब (Zeeshan Ayub) के खिलाफ FIR दर्ज़ करवा दी हैं. पुलिस अधीक्षक एस आनंद ने मीडिया से बातचीत करते हए बताया है की हमने तांडव (Tandav) वेब सीरीज के निर्देशक अली अब्बास जफर तथा कलाकार सैफ अली खान और जीशान अयूब के खिलाफ कुल आठ धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज़ की हैं. हम मामले की जांच गंभीरता से कर रहें हैं और पुलिस की एक टुकड़ी हमने पूछताछ के लिए रवाना भी कर दी हैं. इसी सन्दर्भ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी (Shalabh Mani Tripathi) ने भी ट्वीट करते हुए लिखा है की, "यूपी पुलिस मुंबई निकल चुकी है, वो भी गाड़ी से, प्राथमिकी में मजबूत धाराएं लगी हैं, तैयार रहना, धार्मिक भावनाओं को आहत करने की कीमत तो चुकानी ही पड़ेगी. श्री उद्धव ठाकरे जी, उम्मीद है आप इनके बचाव में ना आएंगे." [embed]https://twitter.com/shalabhmani/status/1351105427463942147[/embed] उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा की, "जन भावनाओं के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं. घटिया वेब सीरीज की आड़ में नफरत फैलाने वाली वेब सीरीज तांडव की पूरी टीम के खिलाफ योगी जी के उत्तर प्रदेश में गंभीर धाराओं में मामला दर्ज, जल्द गिरफ्तारी की तैयारी." ऐसे में देखना यह होगा की आगे चलकर यह मुद्दा क्या मोड़ लेता हैं, क्योंकि आज से पहले ऐसे मामलों में विवाद सोशल मीडिया से कभी आगे नहीं जा पाता था.