नॉर्मल सिम का जमाना हुआ पुराना, ऐसे पाएं Jio, Airtel या Vi का eSIM कार्ड

आज के दौर में सब कुछ डिजिटल होता जा रहा है। ऐसे में टेलिकॉम कंपनियां भी eSIM की सुविधा देने लग गई है। बता दें कि ई-सिम को आप डायरेक्टली अपने स्मार्टफोन में डाउनलोड कर सकते हैं और इसे अपने डिवाइस में फिजिकली लगाने की जरूरत नहीं पड़ती। जियो, एयरटेल और Vi (वोडाफोन-आइडिया) जैसी कंपनियां ग्राहकों को ई-सिम खरीदने की सुविधा दे रही है। ई-सिम के फायदे और नुकसान सबसे पहले अगर फायदों की बात करें तो यह सिम उन लोगों के लिए बेहद फायदेमंद है जो दूसरे देशों में ट्रैवल करते हैं। जब भी आप विदेश जाएं तो आप मिनटों में ई-सिम खरीद सकते हैं। वहीं अगर आपके पास फिजिकल सिम कार्ड होगा तो आपको स्टोर जाकर ही सिम बदलवाना होगा, जिससे समय की भी बर्बादी होगी दूसरा फायदा यह है कि आपको स्मार्टफोन की सिम ट्रे का इस्तेमाल नहीं करना पड़ता। फिजिकल सिम की तरह इसके खो जाने का डर भी नहीं रहता। खामियों की बात करें, तो ई सिम एक सामान्य सिम कार्ड की तुलना में महंगा होता है। इसके अलावा, अभी सिर्फ चुनिंदा स्मार्टफोन्स ही हैं जो ई-सिम सपॉर्ट करते हैं ऐसे पाएं ई-सिम कार्ड सबसे पहले बात Vi की। कंपनी का ई-सिम पाने के लिए आपको पोस्टपेड प्लान के लिए सब्सक्राइब करना होगा। अगर आप पहले से एक पोस्टपेड यूजर हैं तो आप अपने वर्तमान सिम को ई-सिम में कन्वर्ट करा सकते हैं। Vi की यह सर्विस फिलहाल मुंबई, गुजरात, दिल्ली, महाराष्ट्र और गोवा में ही उपलब्ध है। जियो और Vi दोनों का सिम पाने की प्रक्रिया लगभग एक जैसी है। सिम पाने के लिए आपको कंपनी के स्टोर जाना होगा। KYC फॉर्म भरकर आप ई-सिम पा सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपके पास ई-सिम सपॉर्टेड डिवाइस होनी जरूरी है। [caption id="attachment_30187" align="alignnone" width="474"] photo credit- google[/caption] वहीं, अगर आप एयरटेल यूजर हैं और अपने फिजिकल सिम को ई-सिम में बदलना चाहते हैं तो आपको 121 पर एक SMS करना होगा। SMS में आपको लिखना होगा eSIM और स्पेस देकर रजिस्टर्ड ईमेल आईडी। आपको एक एसएमएस प्राप्त होगा, जिसे कन्फर्म करने के लिए 60 सेकंड के भीतर 1 लिखकर भेजना होगा। इसके बाद वॉइस कॉल के जरिए कन्फर्मेशन देना होगा। आपकी रजिस्टर्ड ईमेल आईडी पर एक QR कोड प्राप्त होगा, जिसे आपको स्कैनकरना होगा। ई-सिम को एक्टिवेट होने में करीब दो घंटे का समय लग जाएगा।
 

नॉर्मल सिम का जमाना हुआ पुराना, ऐसे पाएं Jio, Airtel या Vi का eSIM कार्ड

आज के दौर में सब कुछ डिजिटल होता जा रहा है। ऐसे में टेलिकॉम कंपनियां भी eSIM की सुविधा देने लग गई है। बता दें कि ई-सिम को आप डायरेक्टली अपने स्मार्टफोन में डाउनलोड कर सकते हैं और इसे अपने डिवाइस में फिजिकली लगाने की जरूरत नहीं पड़ती। जियो, एयरटेल और Vi (वोडाफोन-आइडिया) जैसी कंपनियां ग्राहकों को ई-सिम खरीदने की सुविधा दे रही है। ई-सिम के फायदे और नुकसान सबसे पहले अगर फायदों की बात करें तो यह सिम उन लोगों के लिए बेहद फायदेमंद है जो दूसरे देशों में ट्रैवल करते हैं। जब भी आप विदेश जाएं तो आप मिनटों में ई-सिम खरीद सकते हैं। वहीं अगर आपके पास फिजिकल सिम कार्ड होगा तो आपको स्टोर जाकर ही सिम बदलवाना होगा, जिससे समय की भी बर्बादी होगी दूसरा फायदा यह है कि आपको स्मार्टफोन की सिम ट्रे का इस्तेमाल नहीं करना पड़ता। फिजिकल सिम की तरह इसके खो जाने का डर भी नहीं रहता। खामियों की बात करें, तो ई सिम एक सामान्य सिम कार्ड की तुलना में महंगा होता है। इसके अलावा, अभी सिर्फ चुनिंदा स्मार्टफोन्स ही हैं जो ई-सिम सपॉर्ट करते हैं ऐसे पाएं ई-सिम कार्ड सबसे पहले बात Vi की। कंपनी का ई-सिम पाने के लिए आपको पोस्टपेड प्लान के लिए सब्सक्राइब करना होगा। अगर आप पहले से एक पोस्टपेड यूजर हैं तो आप अपने वर्तमान सिम को ई-सिम में कन्वर्ट करा सकते हैं। Vi की यह सर्विस फिलहाल मुंबई, गुजरात, दिल्ली, महाराष्ट्र और गोवा में ही उपलब्ध है। जियो और Vi दोनों का सिम पाने की प्रक्रिया लगभग एक जैसी है। सिम पाने के लिए आपको कंपनी के स्टोर जाना होगा। KYC फॉर्म भरकर आप ई-सिम पा सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपके पास ई-सिम सपॉर्टेड डिवाइस होनी जरूरी है। [caption id="attachment_30187" align="alignnone" width="474"] नॉर्मल सिम का जमाना हुआ पुराना, ऐसे पाएं Jio, Airtel या Vi का eSIM कार्ड photo credit- google[/caption] वहीं, अगर आप एयरटेल यूजर हैं और अपने फिजिकल सिम को ई-सिम में बदलना चाहते हैं तो आपको 121 पर एक SMS करना होगा। SMS में आपको लिखना होगा eSIM और स्पेस देकर रजिस्टर्ड ईमेल आईडी। आपको एक एसएमएस प्राप्त होगा, जिसे कन्फर्म करने के लिए 60 सेकंड के भीतर 1 लिखकर भेजना होगा। इसके बाद वॉइस कॉल के जरिए कन्फर्मेशन देना होगा। आपकी रजिस्टर्ड ईमेल आईडी पर एक QR कोड प्राप्त होगा, जिसे आपको स्कैनकरना होगा। ई-सिम को एक्टिवेट होने में करीब दो घंटे का समय लग जाएगा।