तो क्या अब UPI Transactions पर देना होगा अतिरिक्त चार्ज?

0
22

सोशल मीडिया पर अफवाह उड़ाई जा रही थी की अब UPI Transactions पर अतिरिक्त चार्ज लगाना शुरू किया जा सकता हैं. इस सम्बन्ध में National Payments Corporation of India (NPCI) के एक अधिकारी द्वारा मीडिया को बताया गया है की हम UPI लेन-देन (UPI Transaction) पर कोई अतिरिक्त चार्ज (Extra Charge) नहीं लगा रहे.

सोशल मीडिया पर इस बात की अफवाह है की 1 जनवरी 2021 से मोदी सरकार UPI इस्तेमाल करने वालों को अतिरिक्त चार्ज लगाने की योजना को अमल में ला रही हैं. NPCI के अधिकारी ने साफ़ कर दिया है की यह महज़ अफवाहें हैं और UPI इस्तेमाल करने वाले Amazon Pay, Google Pay और Phone Pay आदि पर अभी भी बिना किसी अतिरिक्त चार्ज के Transactions कर सकते हैं.

NPCI का कहना है की, UPI Transactions का आंकड़ा फिलहाल 200 करोड़ से अधिक प्रति महीने का हो चला हैं. ऐसे में हम 1 जनवरी, 2021 से 30 परसेंटकैप लगाने का फैसला करने जा रहें हैं. जिसका मतलब होगा की कुल Transactions के वॉल्यूम Third Party App 30 परसेंट ही अपनी ऐप की मदद से Transactions करवा पायेगी.

National Payments Corporation of India (NPCI) की 5 नवंबर 2020 को ही इस बारे में पूरी जानकारी जारी कर दी थी. उनका कहना था की, इससे एक ही ऐप का दबदबा नहीं बनेगा. जिससे सर्वर्स पर लोड कम होगा और Transactions के Fail होने के Chance ख़त्म हो जायेंगे.

इसके लिए फिलहाल मौजूदा Third Party Apps को दो साल में इसे चरणबद्ध तरीके से लागू करना अनिवार्य होगा. यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस यानी (UPI) एक ऐसी भुगतान प्रणाली हैं जिससे आप रियल टाइम में पैसे एक जगह से दूसरी जगह भिजवा सकते हैं. इसके लिए आपको केवल अपने Bank में Register Mobile Number से इसमें Sign-Up करना होगा और Account बनाना होगा. जिसके बाद आप निशुल्क एक खाते से दूसरे कहते में Real-time में पैसे भेज और प्राप्त कर सकते हैं.

यह Payment Method इतना ज्यादा कारगर है की अमेरिका में भी इसे लागू करने की मांग उठने लगी हैं. इससे पहले भारत में VISA और Master Card का दबदबा ख़त्म करने के लिए Rupay Card को लांच किया था. Rupay Card आज भारत के साथ साथ कई देशों में इस्तेमाल किया जाने लगा हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here