The accident had made the condition of ‘Aashiqui’ actress, fought with death for 29 days, now earning name by working :सुपरहिट फिल्म आशिकीसे अनु अग्रवाल को काफी पॉपुलैरिटी मिली। लेकिन इतनी पॉपुलैरिटी मिलने के बाद भी अनु का फिल्मी करियर ज्यादा लंबा नहीं चला। अनु ने हाल ही में उस एक्सीडेंट के बारे में खुलासा किया जिसके बाद उनकी पूरी जिंदगी बदल गई। अनु ने बताया कि साल 1999 में उनका एक्सीडेंट हो गया था जिसमें उन्हें गंभीर चोटें आई थीं।

21 साल की उम्र में मिला ब्रेक

11 जनवरी 1969 को दिल्ली में जन्मी अनु अग्रवाल ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र की पढ़ाई की है। पढ़ाई के दौरान ही अनु को महेश भट्ट ने अपनी फिल्म ‘आशिकी’ में पहला ब्रेक दिया था। महज 21 साल की उम्र में एक्टिंग की दुनिया में कदम रखने वाली अनु ने इस फिल्म से ऑडियंस में खूब वाहवाही बटोरी और वो रातोंरात स्टार बन गईं। बाद में वो ‘गजब तमाशा’, ‘खलनायिका’, ‘किंग अंकल’, ‘कन्यादान’, ‘बीपीएल ओए’ और ‘रिटर्न टू ज्वेल थीफ’ जैसी फिल्मों में दिखीं लेकिन कोई भी फिल्म कुछ खास कमाल नहीं दिखा सकी। बता दें, अनु तमिल फिल्म ‘थिरुदा-थिरुदा’ और शॉर्ट फिल्म ‘द क्लाऊड डोर’ में भी काम किया है। साथ ही वो कुछ दिन एम टीवी वीजे भी रही हैं।

बॉलीवुड फिल्मों में अपना नाम बनाना हर एक्ट्रेस का सपना होता है. लेकिन कुछ एक्ट्रेस ऐसी भी होती हैं जो अपने सपने को सच करते ही इंडस्ट्री को अलविदा भी कह देती हैं. आज हम एक ऐसी ही एक्ट्रेस की कहानी से रूबरू होंगे. जी हां, आज हम बात करेंगे 1990 में चर्चा में आई एक्ट्रेस अनु अग्रवाल (Anu Agarwal) के बारे में. फिल्म आशिकी तो अपने देखी ही होगी. इस फिल्म ने अनु को रातों-रात अनु को बहुत स्टारडम देदी थी. एक्ट्रेस ने अपने करियर की शुरुआत मॉडलिंग सी की थी. लेकिन 90 के दशक में उन्होंने फिल्मों में आने की सोची.

टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए एक्ट्रेस ने बताया था की, ”1999 में मेरा बहुत बड़ा एक्सीडेंट हुए था, इस एक्सीडेंट के बाद मैं कोमा में चली गई थी. एक्सीडेंट के पहले में आश्रम में रहती थी, जहां मैंने जीवन के आध्यात्म पर ध्यान दे रही थी. दुर्घटना के बाद क्या हुआ मुझे ज्यादा कुछ याद भी नहीं है. लेकन मुझे मेरा नाम जरूर याद था. 2001 के करीब मैंने दुनियादारी से संन्यास लिया और अपने सिर के बालों को मुंडवा लिया. और मैंने एक शांत जगह पर ध्यान करना शुरू किया,”

You missed