पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को बड़ा झटका लगा है। TMC को ये झटका दिया है बीजेपी ने। दरअसल सहकारी निकाय चुनाव में बीजेपी ने बड़ी जीत हासिल की है। बीजेपी ने ये जीत हासिल की है नंदीग्राम से। आपको बता दें की नंदीग्राम तृणमूल कांग्रेस का गढ़ माना जाता है।गौरतलब है की 2021 के बंगाल विधान सभा चुनावों में भी नंदीग्राम से ममता बनर्जी को हार का सामना करना पड़ा था।

बीजेपी ने भेदा ममता बनर्जी का किला !

नंदीग्राम TMC का गढ़ माना जाता था। जो की अब विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेन्दु अधिकारी का निर्वाचन क्षेत्र है। इसके साथ ही भाजपा ने भेकुटिया समबेय कृषि समिति की 12 में से 11 सीट पर जीत दर्ज की है। तो वही टीएमसी के सिर्फ एक सीट गयी है।

बीजेपी की जीत पर उठाये

सहकारी समिति में सुबह 10 बजे से चुनाव प्रक्रिया शुरू हुई। चुनाव को लेकर दिनभर इलाके में राजनीतिक तनाव बना रहा। बीजेपी की जीत पर टीएमसी कार्य कर्ताओं में आ क्रोश जग गया। यहां तक कि तृणमूल कांग्रेस के लोग ला ठी डं डे लेकर उतर आए। पुलिस ने किसी तरह से मामले को संभाला। सहकारी समिति के चुनाव को लेकर दोनों पक्षों ने गड़बड़ी की शिकायत की। तृणमूल कांग्रेस की ओर से इल्जाम लगाया कि मतदान के लिए यहां बाहरी लोगों को लाया गया। अफरा-तफरी का माहौल हो गया. बाद में नंदीग्राम थाना पुलिस ने जाकर स्थिति को नियंत्रित किया.

ममता बनर्जी के पूर्व सहयोगी है शुभेंदु

बता दें की शुभेंदु अधिकारी TMC के पूर्व सहयोगी है। शुभेंदु पिछले साल दिसंबर में टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे। इसके बाद बंगाल के विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी के निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ा। इस चुनाव में शुभेंदु ने जीत हासिल की थी। ममता बनर्जी अपनी हार से बौखला गई थी। जिसपर तृणमूल कांग्रेस ने नंदीग्राम सीट पर दोबारा काउंटिंग की मांग की थी। जिसे चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया था।