अगर आप चलाते है फेसबुक और व्हाट्सएप्प तो अब देने होंगे रोज पैसे, सरकार ने लगा दिया गया टैक्स !

0
312
social media tax

Social Media Tax: अगर आप चलाते है फेसबुक और व्हाट्सएप्प तो अब देने होंगे रोज पैसे, सरकार ने लगा दिया गया टैक्स ! Soial media आजकल अपनी बातों को दुनिया के सामने रखने का सबसे platform हो गया है। Facebook, Twitter, Whatsapp जैसे ऐप पर दिन भर लोग अपनी भड़ास निकालते हैं लेकिन जरा सोचिए कि सरकार social media के इस्तेमाल पर टैक्स लेने लगे तो कैसा रहेगा? जी हां, हुआ भी ऐसा ही है। युगांडा की संसद ने social media का इस्तेमाल करने वालों पर टैक्स लगाने के कानून को मंजूरी दे दी है। इस कानून के तहत जो लोग भी फेसबुक, व्हॉट्सऐप, viber और ट्विटर जैसे social platform का इस्तेमाल करेंगे, उन्हें हर दिन के हिसाब से करीब तीन रुपये 36 पैसे देने होंगे।

whatsapp update redownload deleted media

Social Media Tax-

Social Media के इस्तेमाल पर क्यों लगाया गया Tax?

राष्ट्रपति योवेरी मुसेवनी ने इस कानून का समर्थन करते हुए कहा कि यह कानून इसलिए लागू किया जा रहा है ताकि Social media पर अफवाहों को रोका जा सके। यह कानून 1 July से लागू हो गया है लेकिन इसे किस तरह से लागू किया जाएगा! इस बात को लेकर अब भी असमंजस की स्थिति बनी हुई है! नई Excise Duty bill में कई और तरह के टैक्स भी हैं जिसमें कुल मोबाइल मनी ट्रांजेक्शन में अलग से एक फीसदी का tax देना होगा।

रॉयटर्स की खबर के मुताबिक, देश में 2.3 करोड़ मोबाइल Subscribers हैं जिनमें से केवल 1.7 करोड़ ही इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि अब तक ये स्पष्ट नहीं हो सका है कि अधिकारी ये कैसे पता करेंगे कि कौन social media का इस्तेमाल कर रहा है और कौन नहीं।

whatsapp hiring india

क्या भारत में लग सकता है ऐसा Tax?

भारत में Internet और Cyber crime मामलों के जानकार पवन दुग्गल का कहना है कि अभी तो ऐसा कोई प्रावधान नहीं है लेकिन अगर सरकार चाहे तो Tax लगा सकती है। इस तरह का टैक्स लगाना बहुत फायदेमंद नहीं होगा क्योंकि अभी एक बहुत बड़े वर्ग का Internet पर आना बाकी है।

whatsapp update redownload deleted media

हालांकि पवन दुग्गल ये जरूर मानते हैं कि भारत में भी Facebook और Whatsapp के माध्यम से फेक न्यूज काफी फैलती है क्योंकि ज्यादातर लोग बिना सोचे-समझे मैसेज आगे बढ़ा देते हैं। वो मानते हैं कि इस तरह के संदेशों को नियंत्रित करने की ज़रूरत है और संभव है कि TAX लगाने से इस पर कुछ हद तक नियंत्रण भी लगे, हालांकि वो ये भी मानते हैं कि ऐसे लोगों की पहचान कर पाना एक मुश्किल प्रक्रिया है!

और देखें – सलमान खान ने कर दिया गोविंदा की बेटी को बर्बाद, बाटे ने किया खुलासा, जानिए पूरा सच !