दुनिया की अजीबोगरीब परंपरा, मरने पर नहीं रोयेंगी महिला, बिल्ली के मर जाने पर eye brow काट लेना…

0
334
bizarre tradition

Bizarre tradition: महिलाओं के रोने पर बैन लगा है! अगर आप इसके पीछे की कहानी जान लेंगे! तो हैरान ही रह जाएंगे! आप शायद ही बात जानते होंगे! कि रोमन में किसी की मौत पर महिलाएं रो नहीं सकती थीं! इसके पीछे की वजह जानकर आप चौंक पड़ेंगे! दरअसल, ऐसा इसलिए किया गया था! क्योंकि महिलाएं रोते हुए अपने चेहरे को नाखूनों से नोंच लेती थीं! फिर ऐसे रोने के तरीके को देखकर किसी की भी मौत पर महिलाओं के रोने पर पाबंदी लगा दी गई!

Bizarre tradition-

मिस्र में लोग बिल्ली को पवित्र मानकर उसकी पूजा करते थे! अगर आप यह बात नहीं जानते तो जरूर जान लें! दरअसल, यहां घर में बिल्ली का आना शुभ माना जाता था! सिर्फ इतना ही नहीं बिल्ली के मरने पर दुख जाहिर करने का बेहद अजीबोगरीब तरीका था! जिसके लिए लोग अपनी एक आईब्रो की शेव करवाते थे! यहां तक कि मिस्र में बिल्ली को मारने पर सजा दी जाती थी!

इधर, स्कॉटलैंड में भी ऐसा ही अजीबो-गरीब रिवाज है! बता दें यहां जानवरों के मल को इस्तेमाल में लिया जाता है! यह मेडिकल ट्रीटमेंट के तौर पर यूज किया जाता है! मगरमच्छ के मल को गर्भनिरोधक की तरह और भेड़ का मल को स्माल पॉक्स के इलाज में यूज किया जाता था! पहले के समय मे सिपाहियों के जख्म भरने के लिए जानवरों का मल इस्तेमाल किया जाता था!

रोम में प्राचीन समय में महिलाओं के साथ जो होता था! वह भारतीय लोगों के लिए बेहद शॉकिंग होगा! दरअसल, यहां महिलाओं को परिवार के ही किसी सदस्य से शादी करना होती थी! सिर्फ इतना ही नहीं अगर लड़की परिवार के अलावा किसी और सदस्य से शादी करती थी! तो पिता को ये अधिकार था! कि वह अपनी बेटी की हत्या कर दे!

पहले के समय में रोम में सल्फर से बालों को डाई करने का चलन था! बालों को डाई करना कोई नई बात नहीं है! यह स्ट्रॉन्ग केमिकल में से एक माना जाता है! इसकी इस्तेमाल 17 वीं और 18 वीं शताब्दी में यूरोपियन महिलाएं किया करती थी!

और देखें –

कभी दिमाग में आया, फेसबुक का रंग नीला ही क्यों है, तो जान लीजिये ये रोचक बात…facebook colour

develop farmerचुनौती : कुछ इस तरह बदल जाएगी भारतीय किसानों की तस्वीर…!