फर्जी वोटर कार्ड बनाने का भंडाफोड़, 10 हज़ार फर्जी वोटर कार्ड बरामद..

0
376

Fake voter card bribe: जिस वक्त रेड पड़ी उस वक्त वहां बड़ी तादाद में BJP और JDS के कार्यकर्ता और नेता भी थे लिहाजा हंगामा मच गया और मारपीट तक होने लगी। काफी देर तक फ्लैट के अंदर से लेकर बाहर सड़क तक हंगामा होता रहा। हज़ारों की तादाद में मिले इन Voter ID कार्ड की चुनाव आयोग के अफसरों ने जांच की तो वो असली निकले.

Fake voter card bribe

Fake voter card bribe

यहाँ से मिले इतने वोटर-id

कर्नाटक में कल रात एक फ्लैट से करीब 10 हज़ार वोटर Voter ID मिलने पर हड़कंप मच गया। पुलिस ने यहां से कंप्यूटर, प्रिंटर और हजारों की संख्या में वोटर कार्ड बरामद किए हैं। BJP ने आरोप लगाया कि यह अपार्टमेंट एक कांग्रेसी नेता का है और कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए बेइमानी पर उतर आई है। मतदान से महज चार दिन पहले चुनावी साज़िश के ये सबूत बैंगलुरु के जालहल्ली इलाके के एसेल वी पार्क व्यू अपार्टमेंट से मिले हैं। फ्लैट नंबर 115 में चुनावी साज़िश के इतने सबूत मिले कि वहां रेड मारने गई चुनाव आयोग की टीम हैरान रह गई.

हज़ारों की तादाद में मिले इन Voter ID

जिस वक्त रेड पड़ी उस वक्त वहां बड़ी तादाद में BJP और JDS के कार्यकर्ता और नेता भी थे लिहाजा हंगामा मच गया और मारपीट तक होने लगी। काफी देर तक फ्लैट के अंदर से लेकर बाहर सड़क तक हंगामा होता रहा। हज़ारों की तादाद में मिले इन वोटर Voter ID की चुनाव आयोग के अफसरों ने जांच की तो वो असली निकले। मामले की गंभीरता को देखते हुए आधी रात कर्नाटक के मुख्य चुनाव अधिकारी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा कि फ्लैट में Voter ID कहां से आए, किसने मंगाए, क्या थी पूरी साज़िश इसके खुलासे के लिए जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आयोग ने FIR भी दर्ज कर ली है.

कर्नाटक के मुख्य चुनाव अधिकारी ने बताया

कर्नाटक के मुख्य चुनाव अधिकारी संजीव कुमार ने बताया कि फ्लैट से नौ हज़ार सात सौ छियालीस Voter ID मिले हैं। ये कार्ड असली हैं। जो भी अनियमितता हुई है, जिस किसी ने भी ये काम किया है, सारी चीजों का पता लगाया जाएगा। निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित किया जाएगा और सही वक्त पर सही एक्शन लिया जाएगा। अभी मेरे लिए इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। जांच अभी होनी है। चुनाव आयोग की रेड के बाद कर्नाटक की सियासत में मिडनाइट ड्रामा शुरू हो गया। BJP ने आरोप लगाया कि फ्लैट जिस मंजूला नाम की महिला के नाम है.

Fake voter card bribe

कांग्रेस के आरोपों पर BJP ने सफाई दी

Fake voter card bribe

BJP के आरोपों के बाद कांग्रेस एक्शन में आ गई। कुछ फोटो पेश किए, कागजात दिखाए और दावा किया कि फ्लैट में रहने वाला राकेश फ्लैट की मालिकन मंजूल का दत्तक पुत्र है और वो BJP उम्मीदवार रह चुका है। कांग्रेस के आरोपों पर BJP ने सफाई दी है और कहा है कि साज़िश वाले फ्लैट का मंजूला के बेटे से कोई संबंध नहीं है। मंजूला 6 साल पहले BJP छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो चुकी है। वो कांग्रेस में है और राज राजेश्वरी नगर सीट से विधायक मुनिरत्ना नायडू के लिए काम करती है। लिहाजा, सारी साज़िश कांग्रेस की रची हुई थी इसलिए राज राजेश्वरी नगर सीट का चुनाव रद्द किया जाए.

अब निगाहें चुनाव आयोग पर

BJP-और कांग्रेस के इस झगड़े में JDS ने किसी का पक्ष नहीं लिया। आधी रात को JDS भी सामने आई और कहा कि चुनाव में साज़िश रचने का काम कांग्रेस और BJP दोनों ही कर रही है। रात भर चला सियासी ड्रामा अभी खत्म नहीं हुआ है। BJP अनियमितता की दुहाई देकर राज राजेश्वरी नगर सीट का चुनाव रद्द करने के साथ-साथ CM सिद्धरामैया के चुनाव क्षेत्र का भी मतदान रद्द करने की मांग कर रही है। अब निगाहें चुनाव आयोग पर टिकी हैं कि Voter ID वाली साज़िश में वो किस पार्टी के नेता को गुनहगार मानता है.

और पढ़े: 2019 के लोकसभा चुनाव में पहली बार इस मशीन का प्रयोग, लोगों को होगा बड़ा फायदा..

——