पत्नी के सताए हुए मर्दो का मसीहा बना ये आश्रम…

0
561
husband unhappy

Husband unhappy: पत्नी के सताए हुए मर्दो का मसीहा बना ये आश्रम… सुनने में भले ही आपको अजीब लगे, लेकिन यह बिल्कुल सच है! ताज्जुब की बात ये है! कि यह किसी विदेश में नहीं बल्कि अपने ही देश में है! खुल चूका है देश में पत्नी के सताएं हुए मर्दों को सहारा देने का कार्य करने वाला आश्रम! महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद में स्थित पत्नी के सताएं मर्दों को सहारा देने का कार्य करने वाला यह आश्रम पत्नी से पीड़ित पतियों को सहायता देने का कार्य करता है! इस संघ का कार्य पत्नी द्वारा सताये हुए मर्दों को आश्रय देकर उन्हें संभालना है! हैरानी वाली बात ये है! कि इस संघ का नाम पत्नी उत्पीड़न संघ रखा गया है!

Husband unhappy-

आपको जानकर हैरानी होगी, कि पुरुषों पर महिलाओं के अत्याचार के मामलों की एक रिपोर्ट के मुताबिक! NCRB, यानि नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो ने आकड़ा दिया था! कि साल 2014 में पति के अत्याचार की शिकार पत्नियों के 1 लाख 22 हजार 877 मामले सामने आए! हालांकि, इस तरह के आपराधिक आंकड़े इकट्ठा करने वाली! इस संस्था के पास पतियों पर पत्नियों के अत्याचार के आकंडे मौजूद नहीं है!

इस आश्रम में केवल ऐसे लोग हैं! जिनसे उनकी पत्नियां खाना बनाने से लेकर कपड़े धोने तक के सारे काम कराती हैं! इस आश्रम में कुल 9 और संगठन दल में 450 से ज्यादा सदस्य हैं! आश्रम में रहने वाले सभी लोग जीवन चलाने के लिए छोटा-मोटा काम करते हैं! और उन्हें सिखाया भी जाता है! इस आश्रम की शुरुआत पिछले वर्ष 9 Nov, 2017 को की गई थी!

ऐसा नहीं है कि इस आश्रम में हर किसी को जगह मिल जाती है! कुछ नियम भी बनाएं गये हैं इस आश्रम में रहने के लिए! गुजारा भत्ता न चुकाने से जेल में जाकर आया हुआ पति यहां रह सकता या फिर पत्नी की ओर पति पर से कम से कम 20 केस दर्ज किये होने चाहिए! लेकिन, कोई ऐसा व्यक्ति जो दूसरी शादी करना चाहता हो इस आश्रम में नहीं रह सकता है! आश्रम में काम करना जरुरी है! देश में ऐसे अनेक पुरुष हैं! जो आये दिन अपनी पत्तनियों के अत्याचार झेल रहे हैं!

और देखें –

आपके पास भी लैमिनेटेड या प्लास्टिक आधार कार्ड है तो रहें सावधान, सब काम छोड़कर पहले इसे पढ़ें…

auto expoभारत में लॉन्च हुआ ये इलेक्ट्रिक स्कूटर, वायरलैस चार्जिंग फीचर के साथ…