करणी सेना का ये कार्यकर्ता पद्मावत देखते हुए पकड़ा गया मिली सजा !

0
291
peculiar punishment

Peculiar punishment: करणी सेना का ये कार्यकर्ता पद्मावत देखते हुए पकड़ा गया मिली अजीबोगरीब सजा बेक टू बैक देखनी होगी सुर्यवन्शम! दूसरों को दारु न पीने की नसीहत देने वाला आदमी! जब आपको किसी पार्टी में धुत्त हुआ मिल जाए! तो ऐसा लगता है जैसे केजरीवाल बाकी लोगों से कह रहे हों! कि “प्लीज यार हर बात पर बतंगगढ़ न किया करो!” ठीक ऐसा ही वाकिया हुआ कर्णी सेना के साथ, जब उनका एक कार्यकर्ता पद्मावत देखते मिल गया!

Peculiar punishment-

बात अहमदाबाद निवासी संदीप राजपूत की है! जो पेशे से नल्ला और हरकतों से कर्णी सेना का एक्टिव मेंबर है! पद्मावत रिलीज होने से पहले संदीप ने पद्मावत न रिलीज होने देने की सौगन्ध खा रखी थी! यहीं नही दीपिका का नाक काट कर लाने वाले को अपनी तरफ से 500 रुपए देने का एनाउंसमेंट कर रखा था! जिसके बाद संदीप को कर्णी सेना का मोहल्ला प्रेजिडेंट भी बना दिया गया था!

लेकिन जैसे ही आज पद्मावत रिलीज हुई! सबसे पहले संदीप ही फ़िल्म देखने पहुंच गया! संदीप को आइडिया नहीं था कि कर्णी सेना के लोग फ़िल्म को रुकवाने थियेटर में घुस आएंगे! लेकिन ऐसा हो गया! फ़िल्म रुकवाने थियेटर में घुसे कर्णी सेना के कार्यकर्ताओं को संदीप फ़िल्म देखता मिल गया!

संदीप को देखते ही कर्णी सेना के मेम्बर्स का गुस्से का ठिकाना नहीं रहा! वो लोग ‘साले जयचंद’ कहते हुए संदीप को थियेटर से बाहर लाए! और संदीप को पकड़ कर कर्णी सेना के जिलाध्यक्ष जिग्नेश राजपूत के सामने पेश किया गया! जिन्होंने सज़ा के तौर पर संदीप को बैक टू बैक पांच बार सूर्यवंशम देखने की सज़ा दी है!

“सूर्यवंशम देखने की सज़ा दी है?” के जवाब में बन्ना जिग्नेश ने बताया कि सूर्यवंशम कोई लोकल फ़िल्म नहीं है! ये फ़िल्म राजपूतों के गौरव और वीरता की कहानी है! जिसमें ठाकुर भानुप्रताप कैसे जहर वाली खीर खाने के बाद भी बच जाते हैं! राजपूतों की वीरता की इससे बड़ी मिशाल और क्या होगी? इसलिए हम चाहते हैं! कि संदीप इस फ़िल्म को देख के कुछ सीख ले!

और देखें-

ये लड़का भेजता था सुबह सुबह व्हाट्सप्प पर 150 मेसेज, लोगो ने जो किया वो आप भी…!whatsapp mystery

cheap smart tvMi ने लॉन्च किया दुनिया का सबसे सस्ता Anroid Smart tv कीमत जानकर खुश हो जाएंगे…!