मुसलमानों ने हिंदुओ के 13 गांव के हजारों लोगो को प्रसाद के बदले खिला दी भैंस की बिरयानी, योगी पुलिस ने लिया बड़ा एक्शन

In the Urs fair, non-veg biryani was fed in the name of prasad: उत्तर प्रदेश आजकल हर किसी का फोकस किसी राज्य पर है चाहे फिर वह चुनाव को लेकर हो या फिर किसी खबर को! और आखिरकार हो भी क्यों ना क्योंकि उत्तर प्रदेश से ऐसे कई सारे मामले सामने आते रहते हैं जिसको जाने के बाद हर कोई हरा नहीं जाता है और अब एक ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के महोबा से आ रहा! दरअसल पिछले महीने 31 अगस्त को पीर बाबा के उर्स में 13 गांव के लोगों को आमंत्रित किया गया था! उर्स का यह मेला चरखारी कोतवाली के सालट गांव में पिछले 6 साल से लगता आया है यह हिंदू बहुल क्षेत्र है और इस समारोह में आसपास के मुस्लिमों के साथ-साथ हिंदू भी बड़ी संख्या में भाग लेने आते हैं लेकिन इस बार का आमंत्रण प्रसाद के नाम पर नॉन वेज बिरयानी के कारण विवाद का रूप ले लिया! ऐसे में गांव के बाहर बनी पीर बाबा की मजार पर उर्स के आयोजन में हिस्सा लेने आए हिंदुओं को धोखे से नॉन वेज बिरयानी खिला दी गई वह भी प्रसाद के नाम पर! न तो प्रसाद बांटने वाले और न ही प्रसाद बनाने वाले ने यह घोषणा की कि बिरयानी में भैंस का मांस मिलाया गया है! ऐसे में हिंदू श्रद्धालु भी छल से बिरयानी को प्रसाद के रूप में खाने लगे! खाने के दौरान जब उन्हें मांस और हड्डियां मिलीं तो हंगामा हो गया! प्राथमिकी दर्ज इस मामले में 23 नामजद समेत 43 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है! कल्लू, शहादत, चुट्टन, रमजान, राशिद, मुन्ना, पप्पू, मजीद, नजीर, कमरुद्दीन, हजरत, बशीर, राजू, अंसार, अकरम, साबिर, शरीफ, समीम, यूनुस, युसूफ, भूरा और मुन्ना के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी! इसके अलावा 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ धोखा धड़ी समेत कुछ अन्य धाराओं में भी रिपोर्ट दर्ज कराई गई है!
 

मुसलमानों ने हिंदुओ के 13 गांव के हजारों लोगो को प्रसाद के बदले खिला दी भैंस की बिरयानी, योगी पुलिस ने लिया बड़ा एक्शन

In the Urs fair, non-veg biryani was fed in the name of prasad: उत्तर प्रदेश आजकल हर किसी का फोकस किसी राज्य पर है चाहे फिर वह चुनाव को लेकर हो या फिर किसी खबर को! और आखिरकार हो भी क्यों ना क्योंकि उत्तर प्रदेश से ऐसे कई सारे मामले सामने आते रहते हैं जिसको जाने के बाद हर कोई हरा नहीं जाता है और अब एक ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के महोबा से आ रहा! दरअसल पिछले महीने 31 अगस्त को पीर बाबा के उर्स में 13 गांव के लोगों को आमंत्रित किया गया था! उर्स का यह मेला चरखारी कोतवाली के सालट गांव में पिछले 6 साल से लगता आया है यह हिंदू बहुल क्षेत्र है और इस समारोह में आसपास के मुस्लिमों के साथ-साथ हिंदू भी बड़ी संख्या में भाग लेने आते हैं लेकिन इस बार का आमंत्रण प्रसाद के नाम पर नॉन वेज बिरयानी के कारण विवाद का रूप ले लिया! ऐसे में गांव के बाहर बनी पीर बाबा की मजार पर उर्स के आयोजन में हिस्सा लेने आए हिंदुओं को धोखे से नॉन वेज बिरयानी खिला दी गई वह भी प्रसाद के नाम पर! न तो प्रसाद बांटने वाले और न ही प्रसाद बनाने वाले ने यह घोषणा की कि बिरयानी में भैंस का मांस मिलाया गया है! ऐसे में हिंदू श्रद्धालु भी छल से बिरयानी को प्रसाद के रूप में खाने लगे! खाने के दौरान जब उन्हें मांस और हड्डियां मिलीं तो हंगामा हो गया!

प्राथमिकी दर्ज

इस मामले में 23 नामजद समेत 43 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है! कल्लू, शहादत, चुट्टन, रमजान, राशिद, मुन्ना, पप्पू, मजीद, नजीर, कमरुद्दीन, हजरत, बशीर, राजू, अंसार, अकरम, साबिर, शरीफ, समीम, यूनुस, युसूफ, भूरा और मुन्ना के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी! इसके अलावा 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ धोखा धड़ी समेत कुछ अन्य धाराओं में भी रिपोर्ट दर्ज कराई गई है!