खुदकुशी करने से पहले डॉक्टर की आखिरी शब्द: सॉरी मेरे बच्चे तेरा बाप कायर नहीं था उसको हालात ने मारा

जैसा की आप सबको मालूम है इस समय देश के अंदर कोरोनावायरस की दूसरी लहर चल रही है! ऐसे में हर कोई साल 2019 के आखिरी महीने से ही परेशान हैं कि आखिरकार कब इस वायरस से छुटकारा मिलेगा वहीं दूसरी और अगर देश की बात करें तो इस समय देश के हाल बेहाल लग रहे हैं! आए दिन कोरोनावायरस से किसी ना किसी को लेकर कोई ना कोई दुखद खबर आ ही जाती है! बॉलीवुड के अभिनेता से लेकर जर्नलिस्ट तक इस वायरस के प्रकोप से नहीं बच पा रहे! वहीं आम जनता का तो बुरा हाल है! ऐसे में सिर्फ सरकार के पास एकमात्र ऑप्शन बचा था जो उन्होंने आजमा लिया है वह था लॉकडाउन! वहीं दूसरी ओर आलम तो अब यह आ गया है कि देश के अंदर ऑक्सीजन तक की कमी हो रही हैं दवाइयों की सप्लाई में कमी आ रही है! कुल मिलाकर जिसका इंपैक्ट आम लोगों के साथ-साथ अब डॉक्टर और हेल्थ केयर वर्कर्स के लिए भी मुश्किल भरा होता जा रहा है! ऐसे में अब यह तो काम का प्रेशर और दूसरा लोगों को ना बचा पाने की व्यवस्था डॉक्टर को भावनात्मक रूप से बिल्कुल तोड़ कर रख दे रही है! जिसका नतीजा हाल ही में देखने को मिल गया है दरअसल दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स हॉस्पिटल के एक डॉक्टर ने खुदकुशी कर ली! [embed]https://twitter.com/docraviw/status/1388473368081428480[/embed] जानकारी के अनुसार डॉक्टर का शव पुलिस को उनके ही घर से पंखे से लटका हुआ मिला है शुरू में तो यह कहा गया है कि कोरोनावायरस के चलते बढ़ते काम और हर रोज सामने हो रही मौतों से परेशान होकर डॉक्टर ने यह कदम उठा लिया है हालांकि बाद में पुलिस ने यह साफ कर दिया कि ऐसी कोई भी बात नहीं पुलिस को डॉक्टर के घर पर एक सुसाइड का नोट भी मिला है मगर उसमें किसी के ऊपर भी कोई आरोप नहीं लगाया गया है! डॉक्टर की पहचान विवेक के रूप में हुई है जो कि 35 वर्ष के थे! विवेक गोरखपुर के रहने वाले थे और मैक्स अस्पताल में काम किया करते थे डॉक्टर विवेक 1 महीने से आईसीयू में ही ड्यूटी कर रहे थे और कोरोनावायरस के मरीजों की जान बचाने में जुटे हुए थे 6 महीने पहले उनकी शादी हुई थी और पत्नी 2 महीने की गर्भवती भी है! एक रिपोर्ट के अनुसार खुदकुशी से पहले डॉक्टर विवेक ने अपने होने वाले बच्चे के नाम से एक वीडियो संदेश अपनी पत्नी को भेजा था! इस वीडियो के अंदर डॉक्टर साहब ने अपनी पत्नी को संबोधित करते हुए यह कहा था कि कोकिला मुझे नहीं मालूम तुम मुझसे क्यों विद रखती हो मैं उलझ कर रह गया हूं तुम अक्सर कहती हो कि मां के घर में खुश हूं तुम्हारी मां कहती है कि यहां फोन क्यों करते हो क्या मेरा हक नहीं है कि मैं फोन करके अपनी पत्नी से हाल-चाल पूछ सकता हूं तुम्हारे लिए अपनी मासूम सी बहन को डांटा मारा मैं खुश होना चाहता था मगर तुमने तो मेरी उस खुशी को भी तार-तार कर दिया सॉरी बच्चे तुझे देख नहीं पाऊंगा! मगर तेरा बाप कायर नहीं था उसे हालात ने मारा है!
 

खुदकुशी करने से पहले डॉक्टर की आखिरी शब्द: सॉरी मेरे बच्चे तेरा बाप कायर नहीं था उसको हालात ने मारा

जैसा की आप सबको मालूम है इस समय देश के अंदर कोरोनावायरस की दूसरी लहर चल रही है! ऐसे में हर कोई साल 2019 के आखिरी महीने से ही परेशान हैं कि आखिरकार कब इस वायरस से छुटकारा मिलेगा वहीं दूसरी और अगर देश की बात करें तो इस समय देश के हाल बेहाल लग रहे हैं! आए दिन कोरोनावायरस से किसी ना किसी को लेकर कोई ना कोई दुखद खबर आ ही जाती है! बॉलीवुड के अभिनेता से लेकर जर्नलिस्ट तक इस वायरस के प्रकोप से नहीं बच पा रहे! वहीं आम जनता का तो बुरा हाल है! ऐसे में सिर्फ सरकार के पास एकमात्र ऑप्शन बचा था जो उन्होंने आजमा लिया है वह था लॉकडाउन! वहीं दूसरी ओर आलम तो अब यह आ गया है कि देश के अंदर ऑक्सीजन तक की कमी हो रही हैं दवाइयों की सप्लाई में कमी आ रही है! कुल मिलाकर जिसका इंपैक्ट आम लोगों के साथ-साथ अब डॉक्टर और हेल्थ केयर वर्कर्स के लिए भी मुश्किल भरा होता जा रहा है! ऐसे में अब यह तो काम का प्रेशर और दूसरा लोगों को ना बचा पाने की व्यवस्था डॉक्टर को भावनात्मक रूप से बिल्कुल तोड़ कर रख दे रही है! जिसका नतीजा हाल ही में देखने को मिल गया है दरअसल दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स हॉस्पिटल के एक डॉक्टर ने खुदकुशी कर ली! [embed]https://twitter.com/docraviw/status/1388473368081428480[/embed] जानकारी के अनुसार डॉक्टर का शव पुलिस को उनके ही घर से पंखे से लटका हुआ मिला है शुरू में तो यह कहा गया है कि कोरोनावायरस के चलते बढ़ते काम और हर रोज सामने हो रही मौतों से परेशान होकर डॉक्टर ने यह कदम उठा लिया है हालांकि बाद में पुलिस ने यह साफ कर दिया कि ऐसी कोई भी बात नहीं पुलिस को डॉक्टर के घर पर एक सुसाइड का नोट भी मिला है मगर उसमें किसी के ऊपर भी कोई आरोप नहीं लगाया गया है! डॉक्टर की पहचान विवेक के रूप में हुई है जो कि 35 वर्ष के थे! विवेक गोरखपुर के रहने वाले थे और मैक्स अस्पताल में काम किया करते थे डॉक्टर विवेक 1 महीने से आईसीयू में ही ड्यूटी कर रहे थे और कोरोनावायरस के मरीजों की जान बचाने में जुटे हुए थे 6 महीने पहले उनकी शादी हुई थी और पत्नी 2 महीने की गर्भवती भी है! एक रिपोर्ट के अनुसार खुदकुशी से पहले डॉक्टर विवेक ने अपने होने वाले बच्चे के नाम से एक वीडियो संदेश अपनी पत्नी को भेजा था! इस वीडियो के अंदर डॉक्टर साहब ने अपनी पत्नी को संबोधित करते हुए यह कहा था कि कोकिला मुझे नहीं मालूम तुम मुझसे क्यों विद रखती हो मैं उलझ कर रह गया हूं तुम अक्सर कहती हो कि मां के घर में खुश हूं तुम्हारी मां कहती है कि यहां फोन क्यों करते हो क्या मेरा हक नहीं है कि मैं फोन करके अपनी पत्नी से हाल-चाल पूछ सकता हूं तुम्हारे लिए अपनी मासूम सी बहन को डांटा मारा मैं खुश होना चाहता था मगर तुमने तो मेरी उस खुशी को भी तार-तार कर दिया सॉरी बच्चे तुझे देख नहीं पाऊंगा! मगर तेरा बाप कायर नहीं था उसे हालात ने मारा है!