नरेन्द्र मोदी करने जा रहे हैं ये काम कि इतिहास में दर्ज हो सकता है उनका नाम..

Narendra Modi recorded history: देश में आजादी से भी पहले से एक समस्या चली आ रही है वो है नागा विद्रोही गुटों की समस्या । नागा विद्रोही गुट नागालैंड को अलग देश की मांग करते चले आ रहे हैं. Narendra Modi recorded history नागालैंड भारत का हिस्सा है आजादी के बाद जब पाकिस्तान अलग हुआ था तब भी नागालैंड खुद को भारत का हिस्सा मानने को तैयार नहीं था । तब से लेकर आज तक कई सरकारों ने Naga विद्रोही संगठनों से बातचीत के माध्यम से मनाने का पूरा प्रयास किया । लेकिन बात बनी नहीं । वर्ष 2015 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी Naga विद्रोही गुटों ने पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी पर अपना भरोसा जताया था । वर्ष 1997 में भारत सरकार के साथ समझौता भी हुआ था । उसके बाद वर्ष 2015 में PM नरेन्द्र मोदी ने भी समझौता किया था । अब जल्द ही समझौता करके कानून बनाने की पूरी सम्भावनाएं नजर आ रही हैं. लगभग 100 वर्षों से चली आ रही देश की उम्मीद है कि आम चुनाव से पहले कानून बन सकता है । अगर ऐसा हो जाता है तो लगभग 100 वर्षों से चली आ रही देश की सबसे पुरानी समस्या का अंत हो सकता है । और देश के साथ ही PM नरेन्द्र मोदी के लिये भी यह एक बहुत बड़ी उपलब्धि होगी. और पढ़े: सुबह उठते ही सबसे पहले PM Modi ने किया राहुल को फोन, कही ऐसी बात कि हैरान रह गई पूरी कांग्रेस ! Follow @Indiavirals ? ------
 

नरेन्द्र मोदी करने जा रहे हैं ये काम कि इतिहास में दर्ज हो सकता है उनका नाम..

Narendra Modi recorded history: देश में आजादी से भी पहले से एक समस्या चली आ रही है वो है नागा विद्रोही गुटों की समस्या । नागा विद्रोही गुट नागालैंड को अलग देश की मांग करते चले आ रहे हैं.

Narendra Modi recorded history

नागालैंड भारत का हिस्सा है

आजादी के बाद जब पाकिस्तान अलग हुआ था तब भी नागालैंड खुद को भारत का हिस्सा मानने को तैयार नहीं था । तब से लेकर आज तक कई सरकारों ने Naga विद्रोही संगठनों से बातचीत के माध्यम से मनाने का पूरा प्रयास किया । लेकिन बात बनी नहीं ।

वर्ष 2015 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

Naga विद्रोही गुटों ने पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी पर अपना भरोसा जताया था । वर्ष 1997 में भारत सरकार के साथ समझौता भी हुआ था । उसके बाद वर्ष 2015 में PM नरेन्द्र मोदी ने भी समझौता किया था । अब जल्द ही समझौता करके कानून बनाने की पूरी सम्भावनाएं नजर आ रही हैं.

लगभग 100 वर्षों से चली आ रही देश की

उम्मीद है कि आम चुनाव से पहले कानून बन सकता है । अगर ऐसा हो जाता है तो लगभग 100 वर्षों से चली आ रही देश की सबसे पुरानी समस्या का अंत हो सकता है । और देश के साथ ही PM नरेन्द्र मोदी के लिये भी यह एक बहुत बड़ी उपलब्धि होगी. और पढ़े: सुबह उठते ही सबसे पहले PM Modi ने किया राहुल को फोन, कही ऐसी बात कि हैरान रह गई पूरी कांग्रेस !

------