जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजी का सच जानिए- यूपी के लड़कों की अापबीती..

National truth stone pelting jammu kashmir: कश्मीर के पुलवामा में factory मालिक की कैद से भागे बागपत और Saharanpur जिले के 6 युवकों में से 1 से पूछताछ जारी है, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं की गई है। police ने 1 युवक को पूछताछ के लिए कोतवाली तलब करने की बात स्वीकार की है। सूत्रों से पता चला है कि पूछताछ में युवक ने बताया कि terrorist पर सैन्य कार्रवाई के दौरान army के जवानों का ध्यान भटकाने के लिए पत्थरबाजी करने जाने का दबाव बनाया जाता था. National truth stone pelting jammu kashmir युवकों को Pulwama ले जाने वाले युवक की तलाश पूछताछ में नसीम ने बताया कि उन्हें कई माह पहले बागपत जिले के अमीनगर सराय का रहने वाला 1 युवक kashmir में काम दिलाने के नाम पर पुलवामा ले गया था और वहां पर factory मालिक से मिलवाने के बाद वापस आ गया था। factory मालिक उन पर अब भी kashmir बुलाने का दबाव बना रहा है। 1 युवक हिरासत में, 4 अन्य साथियों की तलाश जारी kashmir के पहलगाम में भारतीय army पर पत्थर फेंकने वाले गैंग में Saharanpur के 5 युवक भी शामिल थे। police ने 1 युवक को हिरासत में ले लिया है, जबकि 4 की तलाश जारी है। युवक ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है। खुफिया विभाग की report के बाद हरकत में आई police ने नानौता के मोहल्ला चाह मंजली निवासी Mohammad Azim पुत्र हसीबुर्रहमान को हिरासत में ले लिया है. पत्थरबाजों को पाकिस्तान से फंडिंग खुफिया report और सुरक्षा agencies की तफ्तीश में पाया गया कि Jammu and Kashmir में pakistan, अलगाववादियों और दूसरे स्रोतों के जरिए सुरक्षाबलों के खिलाफ पथराव की funding (आर्थिक मदद) कर रहा है। अजीम kashmir के पहलगाम से चंद रोज पहले ही लौटा है। पूछताछ में अजीम ने बताया कि वह सिलाई-कढ़ाई जानता है। राज्य में राज्यपाल शासन राज्य में आतंकवाद और कट्टरपंथी ताकतों के उभार के साथ ही कानून-व्यवस्था की बिगड़ती स्थिति के बीच BJP ने मंगलवार को PDP के साथ अपना गठबंधन तोड़ दिया था। इसके बाद CM महबूबा मुफ्ती ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। राज्यपाल NN वोहरा की सिफारिश पर President रामनाथ कोविंद ने बुधवार को मुहर लगाई, इसके बाद राज्य में अगले 6 महीने के लिए President शासन लागू हो गया. कांग्रेस के सदस्य पर यौन शोषण का आरोप, FIR हुआ दर्ज … Follow @Indiavirals ? ------
 

National truth stone pelting jammu kashmir: कश्मीर के पुलवामा में factory मालिक की कैद से भागे बागपत और Saharanpur जिले के 6 युवकों में से 1 से पूछताछ जारी है, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं की गई है। police ने 1 युवक को पूछताछ के लिए कोतवाली तलब करने की बात स्वीकार की है। सूत्रों से पता चला है कि पूछताछ में युवक ने बताया कि terrorist पर सैन्य कार्रवाई के दौरान army के जवानों का ध्यान भटकाने के लिए पत्थरबाजी करने जाने का दबाव बनाया जाता था. जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजी का सच जानिए- यूपी के लड़कों की अापबीती..

National truth stone pelting jammu kashmir

युवकों को Pulwama ले जाने वाले युवक की तलाश

पूछताछ में नसीम ने बताया कि उन्हें कई माह पहले बागपत जिले के अमीनगर सराय का रहने वाला 1 युवक kashmir में काम दिलाने के नाम पर पुलवामा ले गया था और वहां पर factory मालिक से मिलवाने के बाद वापस आ गया था। factory मालिक उन पर अब भी kashmir बुलाने का दबाव बना रहा है।

1 युवक हिरासत में, 4 अन्य साथियों की तलाश जारी

kashmir के पहलगाम में भारतीय army पर पत्थर फेंकने वाले गैंग में Saharanpur के 5 युवक भी शामिल थे। police ने 1 युवक को हिरासत में ले लिया है, जबकि 4 की तलाश जारी है। युवक ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया है। खुफिया विभाग की report के बाद हरकत में आई police ने नानौता के मोहल्ला चाह मंजली निवासी Mohammad Azim पुत्र हसीबुर्रहमान को हिरासत में ले लिया है.

पत्थरबाजों को पाकिस्तान से फंडिंग

खुफिया report और सुरक्षा agencies की तफ्तीश में पाया गया कि Jammu and Kashmir में pakistan, अलगाववादियों और दूसरे स्रोतों के जरिए सुरक्षाबलों के खिलाफ पथराव की funding (आर्थिक मदद) कर रहा है। अजीम kashmir के पहलगाम से चंद रोज पहले ही लौटा है। पूछताछ में अजीम ने बताया कि वह सिलाई-कढ़ाई जानता है।

राज्य में राज्यपाल शासन

राज्य में आतंकवाद और कट्टरपंथी ताकतों के उभार के साथ ही कानून-व्यवस्था की बिगड़ती स्थिति के बीच BJP ने मंगलवार को PDP के साथ अपना गठबंधन तोड़ दिया था। इसके बाद CM महबूबा मुफ्ती ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। राज्यपाल NN वोहरा की सिफारिश पर President रामनाथ कोविंद ने बुधवार को मुहर लगाई, इसके बाद राज्य में अगले 6 महीने के लिए President शासन लागू हो गया.

 

------