Valentine Spacial Poem By Neeloo Neelpari , Happy Valentine Day 2018 !

0
149
Neeloo Neelpari Valentine Day Poem

Happy Valentine Day Friend… ???

तुम जो कहते हो..
ये जो रोज़ मैं तुम्हारे लिए
खुद से चुरा वक़्त निकाल लाता हूँ !
क्या ये प्यार नहीं?
तुम जो कहते हो.. !
भास्कर की किरणों से
रात के चाँद तक में, तुमको पाता हूँ.. !
क्या ये प्यार नहीं?
तुम जो कहते हो.. !
बातों के सिलसिलों की उम्र कम
मुलाकातों के लम्हों का पल में बीत जाना !
जब 24 घंटों के बाद भी अखरता है
क्या ये प्यार नहीं?
तुम जो कहते हो.. !                                                                                     तुम जो अपनी तमाम उलझनों के बावजूद
मुझे मुस्कुरा के देखती हो !

Neeloo Neelpari Valentine Day Poem-

क्या वो दिन रोज़ डे से कम है?
तुम जो कहते हो.. !
तेरी आँखों में मुझे देख जो जुगनू चमकते हैं न !
वही हमारा प्रोपोज़ डे होता है?
तुम जो कहते हो..
तुम्हारे आने से जो फ़िज़ाओं में !
चाशनी सी घुल जाती है !
क्या वो मात्र एक चॉकलेट डे दे सकता है?
तुम जो कहते हो.. !
मेरी मासूम सी गोल मटोल सी टेडी
रोज़ ही तो है, टेडी डे हमारा… !
तुम जो कहते हो.. !
जब मेरी मुश्किलों को, उलझनों को
सम्यक वाक के घेरे में सुलझाती हो !
क्या कोई एक हग डे कर पायेगा?
तुम जो कहते हो.. !

परी, मेरी आँखों में झाँक, आँखों-आँखों में
जो मेरी होने का जो इकरार करती हो !
वही तेरा प्रोमिस समझता हूँ
ताउम्र तेरे साथ का मेरी परी… !
तुम जो कहते हो.. !
मेरे संशयों पर जो
अपनी स्नेहसिक्त बातों का फाहा रखती हो !
किस डे उससे अच्छा भला क्या होगा?
तो कहो,
जब एक जन्म भी कम है
प्रेम के लिए, मेरे सनम.. !
तो क्या एक वैलेंटाइन डे
खुद में समाहित कर पायेगा,
धरा की गहराईओं से गगन की ऊंचाईयों को चूमते
तेरे-मेरे इंद्रधनुषी प्रेम को….?
सुनो,
तेरा-मेरा, मेरा-तेरा अमर है प्यार
अपना सुन यार, हररोज़ मधुमास ! ?

© नीलू ‘नीलपरी’

Happy Valentine Day Friend… ???

Read Also : Valentine Day Poem By Neeloo Neelpari , Happy Valentine Day 2018 !