महाभारत में मारे गए थे 1 अरब 66 करोड़ से ज्यादा योद्धा, आखिर क्या हुआ इतने शवों का..

warriors killed Mahabharata war: महाभारत की कथा जितनी अनोखी है उतनी ही विचित्र है। आज हम आपको महाभारत युद्ध समाप्त होने के बाद की कहानी बता रहे हैं। ये बात तो सभी जानते हैं कि कौरव और पांडवों में जब युद्ध हुआ तो इसमें करोड़ों योद्धा मारे गए, लेकिन मरने के उन योद्धाओं का क्या हुआ, ये बहुत कम लोग जानते हैं। आज हम आपको यही बता रहे हैं. warriors killed Mahabharata war ये हुआ युद्ध समाप्त होने के बाद जब पांडवों ने युद्ध जीत लिया तो सभी पांडव श्रीकृष्ण के साथ धृतराष्ट्र और गांधारी से मिलने पहुंचे। यहां धृतराष्ट्र ने भीम को मारने का प्रयास किया, लेकिन श्रीकृष्ण की सूझ-बुझ से उनकी जान बच गई। इसके बाद पांडव गांधारी से मिले, वह भी पांडवों पर क्रोधित थी, लेकिन थोड़ी देर में उनका गुस्सा भी शांत हो गया। इसके बाद महर्षि वेदव्यास के कहने पर युधिष्ठिर सभी को साथ लेकर कुरुक्षेत्र गए। यहां पहुंचकर धृतराष्ट्र ने युधिष्ठिर से युद्ध में मारे गए योद्धाओं की संख्या पूछी तो उन्होंने बताया कि- इस युद्ध में 1 अरब, 66 करोड़, 20 हजार योद्धा मारे गए हैं। इसके अलावा 24 हजार 165 योद्धाओं की कोई जानकारी नहीं है. युधिष्ठिर ने करवाया सभी का दाह संस्कार युद्ध में मारे गए योद्धाओं के बारे में जानकर धृतराष्ट्र ने युधिष्ठिर को उन सभी का अंतिम संस्कार करने के लिए कहा। युधिष्ठिर ने कौरवों के पुरोहित सुधर्मा और अपने पुरोहित धौम्य को तथा संजय, विदुर, युयुत्यु आदि लोगों को युद्ध में मारे गए सभी योद्धाओं का शास्त्रोत अंतिम संस्कार करने की आज्ञा दी। इसके बाद सभी गंगा तट पर पहुंचे और मृतकों को जलांजलि दी. और पढ़े: DD News के वरिष्ट पत्रकार ने खोल डाला सोनिया-मनमोहन का सबसे बड़ा अनसुना राज़, मुँह छिपा के भागे.. Follow @Indiavirals ? ------
 

महाभारत में मारे गए थे 1 अरब 66 करोड़ से ज्यादा योद्धा, आखिर क्या हुआ इतने शवों का..

warriors killed Mahabharata war: महाभारत की कथा जितनी अनोखी है उतनी ही विचित्र है। आज हम आपको महाभारत युद्ध समाप्त होने के बाद की कहानी बता रहे हैं। ये बात तो सभी जानते हैं कि कौरव और पांडवों में जब युद्ध हुआ तो इसमें करोड़ों योद्धा मारे गए, लेकिन मरने के उन योद्धाओं का क्या हुआ, ये बहुत कम लोग जानते हैं। आज हम आपको यही बता रहे हैं. महाभारत में मारे गए थे 1 अरब 66 करोड़ से ज्यादा योद्धा, आखिर क्या हुआ इतने शवों का..

warriors killed Mahabharata war

ये हुआ युद्ध समाप्त होने के बाद

जब पांडवों ने युद्ध जीत लिया तो सभी पांडव श्रीकृष्ण के साथ धृतराष्ट्र और गांधारी से मिलने पहुंचे। यहां धृतराष्ट्र ने भीम को मारने का प्रयास किया, लेकिन श्रीकृष्ण की सूझ-बुझ से उनकी जान बच गई। इसके बाद पांडव गांधारी से मिले, वह भी पांडवों पर क्रोधित थी, लेकिन थोड़ी देर में उनका गुस्सा भी शांत हो गया। इसके बाद महर्षि वेदव्यास के कहने पर युधिष्ठिर सभी को साथ लेकर कुरुक्षेत्र गए। यहां पहुंचकर धृतराष्ट्र ने युधिष्ठिर से युद्ध में मारे गए योद्धाओं की संख्या पूछी तो उन्होंने बताया कि- इस युद्ध में 1 अरब, 66 करोड़, 20 हजार योद्धा मारे गए हैं। इसके अलावा 24 हजार 165 योद्धाओं की कोई जानकारी नहीं है. महाभारत में मारे गए थे 1 अरब 66 करोड़ से ज्यादा योद्धा, आखिर क्या हुआ इतने शवों का..

युधिष्ठिर ने करवाया सभी का दाह संस्कार

युद्ध में मारे गए योद्धाओं के बारे में जानकर धृतराष्ट्र ने युधिष्ठिर को उन सभी का अंतिम संस्कार करने के लिए कहा। युधिष्ठिर ने कौरवों के पुरोहित सुधर्मा और अपने पुरोहित धौम्य को तथा संजय, विदुर, युयुत्यु आदि लोगों को युद्ध में मारे गए सभी योद्धाओं का शास्त्रोत अंतिम संस्कार करने की आज्ञा दी। इसके बाद सभी गंगा तट पर पहुंचे और मृतकों को जलांजलि दी. और पढ़े: DD News के वरिष्ट पत्रकार ने खोल डाला सोनिया-मनमोहन का सबसे बड़ा अनसुना राज़, मुँह छिपा के भागे..

------