अमिताभ बच्चन की नातिन और श्वेता बच्चन की बेटी नव्या नवेली का एक पुराना इंटरव्यू वायरल हो रहा है, जिसमें उन्होंने महिलाओं के साथ होने वाले भेदभाव पर बात की। साथ ही बताया था कि खुद उनके घर में बेटों और बेटियों में किस तरह भेदभाव किया जाता है। नव्या नवेली ने बताया था कि किस तरह घर की देखभाल की जिम्मेदारी बेटियों पर डाली जाती है और बेटों पर नहीं।

एक इंटरव्यू में नव्या ने कहा था, ‘ऐसी चीजें मेरे घर में भी होती हैं। अगर घर पर मेहमान आते हैं तो मां हमेशा कहती कि जाओ ये लाओ, जाओ वो ले आओ। मुझे ही होस्ट बनकर मेहमानों का स्वागत करना पड़ता था। मेरे भाई को नहीं जबकि वो भी यह चीज कर सकता था।’

नव्या नवेली ने आगे कहा था, ‘मुझे लगता है कि जब बड़े परिवार या जॉइंट फैमिली में रहते हैं तो वहां मेहमाननवाजी, घर चलाना, मेहमानों का ख्याल रखना…इस सबकी जिम्मेदारी लड़कियों पर ही होती है। और मैंने अपने घर में इस तरह की जिम्मेदारी कभी अपने भाई या घर के अन्य छोटे लड़के पर नहीं देखी। मुझे लगता है कि फिर धीरे-धीरे लड़कियों और महिलाओं को लगने लगता है कि घर चलाना और उसकी देखभाल करना हमारी जिम्मेदारी है।’

बोलीं- मेरे घर पर भी होता है ऐसा

अभिषेक बच्चन की भांजी नव्या नवेली का एक पुराना इंटरव्यू सुर्खियों में है। इस इंटरव्यू में वह घरों में जेंडर के हिसाब से होने वाले भेदभाव पर बोल रही हैं। नव्या ने बीते साल Shethepeople से बातचीत में कहा था, मैंने ये चीज अपने घर पर भी देखी है। जब मेहमान आते हैं तो मेरी मां हमेशा मुझको बोलती हैं, ये ले आओ वो ले आओ। होस्ट की भूमिका मुझे निभानी पड़ती है जबकि मेरा भाई भी ऐसा करता है।

बेटियों पर ही आ जाती है जिम्मेदारी

इसलिए मुझे लगता है कि अगर आप बड़े परिवार में रहते हैं या जॉइंट फैमिली में रहते हैं तो घर चलाने, मेहमानवाजी करने और होस्ट बनने की जिम्मेदारी किसी न किसी तरह बेटियों या परिवार की लड़कियों पर डाल दी जाती है। मैंने ऐसा कभी नहीं देखा कि ये जिम्मेदार किसी पुरुष या घर के छोटे लड़के को दी जाए। धीरे-धीरे लड़कियों को लगने लगता है, अच्छा घर चलाना तो हमारी ही जिम्मेदारी है।

जेंडर इक्वैलिटी प्रोजेक्ट से जुड़ी हैं नव्या

नव्या नवेली आंत्रप्रिन्योर हैं। वह प्रोजेक्ट नवेली की फाउंडर और आरा हेल्थ की को-फाउंडर हैं। नवेली एक नॉन प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन है जो कि महिलाओं की बराबरी को प्रमोट करता है। साथ ही उन्हें सशक्त बनाने के लिए हर जरूरी मदद करता है।