बॉलीवुड के महानयक अमिताभ बच्चन किसी ना किसी वजह से सुर्खियों में रहते हैं। उनकी लव स्टोरी किसी फिल्मी कहानी से कम नही हैं। अमिताभ और जया की जोड़ी को बॉलीवुड की सबसे पसंदीदा जोड़ियों में से एक मानी जाती हैं। अमिताभ बच्चन अभी भी फिल्मों में और अपने शो कौम बनेगा करोड़पति में नजर आते हैं तो वही जया बच्चन राजनीतिक गलियांरों में फिल्मों से दूर बयान बाजी को लेकर चर्चा में बनी रहती हैं। जया बच्चन ने हर मौके पर महानायक का साथ दिया है। मुश्किल समय में सहारा बनीं तो खुशी के समय भी झूम उठीं।

कब मिले

बॉलीवुड की फिल्‍मों जैसी ही जया बच्चन और अमिताभ बच्चन की लव स्टोरी भी काफी फिल्मी हैं। दोनों की पहली मुलाकात बड़ी रोचक थी। मशहूर जर्नलिस्ट तरुण कुमार भादुड़ी की तीन पुत्रियों में जया सबसे बड़ी हैं। उन्होंने हायर सेकंडरी पास करने के बाद पुणे के फिल्म इंस्टीट्यूट में एडमिशन लिया था। वहीं अमिताभ बच्चन मशहूर कवि रहे हरिवंश राय बच्चन के पुत्र हैं।

जब अमिताभ बच्चन ने इंडस्ट्री में कदम रखा तो लोगों के बीच उनकी पहचान दो कारणों से थी। पहली कि वह हरिवंश राय बच्चन के बेटे हैं और दूसरी कि वह बॉलीवुड के सबसे लंबे एक्टर हैं। अपनी फिल्म ‘सात हिंदुस्तानी’ अमिताभ बच्चन को शूटिंग के लिए जया बच्चने के कॉलेज जाना पड़ा। वहां पर जया की सहेलियों ने अमिताभ का मजाक बनाना शुरू किया। उनकी हाईट का मजाक उड़ाते हुए जया की सहेलियां उन्हें लंबू-लंबू कह रही थीं। मगर, जया को यह बात अच्छी नहीं लगी।

जया की वजह से ही अमिताभ बच्चन ने अपनी जिंदगी के के कई मुश्किल दौर आसानी से गुजारे हैं। बताया जाता है कि बॉलीवुड को अपना महानायक जय बच्चन की वजह से ही मिल पाया है। ऐसा कहा जाता है कि शुरुआती करियर मे अमिताभ की 12 फिल्में फ्लॉप हुई थी और वह फिल्मी दुनिया छोड़कर जा ही रहे थे कि तभी उन्हे जंजीर ऑफर हुई और इस फिल्म में अमिताभ के अपोजिट जया बच्चन थी और तभी से अमिताभ को बॉलीवुड में नई पहचान मिली। और जया बच्चन को अमिताभ के लिए लकी चार्म का करार दिया गया।

दरहसल अभिनेता की शादी से जुड़ा एक मजेदार किस्सा हैं। जो अभिनेता ने खुद साझा किया था। अमिताभ बच्चन ने बताया कि दोस्तों के बीच यह तय किया गया था कि अगर फिल्म जंजीर को सफलता मिली तो फिर लंदन जाएँगे पार्टी करने। और फिल्म को अपार सफलता मिली और लंदन जाने का प्लान तैयार हुआ और जाने से पहले अभिनेता अमिताभ बच्चन को अपने पिता से परमिशन लेनी थी। अमिताभ ने बताया कि वह जब वह अपने पिताजी के पास परमिशन के लिए पहुंचे तो पिता जी ने पूछा कौन कौन जा रहा हैं। और यहां से शुरू हुई आपकी पसंदीदा एक्टर की शादी की कहानी

अमिताभ बच्चन ने बताया कि “लंदन जाने की अनुमति लेने के लिए मैं बापूजी के पास गया और उन्हें बताया कि हम सभी दोस्त इंग्लैंड जा रहे हैं। तभी उन्होंने मुझसे पूछ लिया कि कौन-कौन दोस्त हैं। मैंने दोस्तों में जया का नाम भी शामिल कर दिया। लेकिन जया का नाम सुनते ही बापूजी बोले कि आप लोग बिना शादी के वहां नहीं जा सकते हैं। ‘अगर तुम्हें जाना है तो पहले शादी करो और फिर जाओ।’ पंडित जी को सूचना दे दी गई, परिवार में सबको बता दिया गया।”
और वर्ष 1973 में 3 जून को वे शादी के बंधन में बंध गए। लेकिन किस्सा यही खत्म नहीं हुआ इसके बाद अभिनेता ने जल्दी जल्दी शादी की रश्में पूरी की और शाम की फ्लाईट जैसे तैसे पकड़ी गई। और दोनों इस तरह लंदन पहुंच गए। और दोनों का रिश्ता मजबूत होता गया। उनका ये मजबूत रिश्ता जंजीर’, ‘अभिमान’, ‘चुपके-चुपके’, ‘मिली’, ‘शोले’ और ‘कभी खुशी कभी गम’ जैसी फिल्मों में और निखरकर सामने आया और उनकी जोड़ी को ऑल टाइम फेवरेट बता दिया गया।